• आखिर बिजली के मजदूरों का कौन है जिम्मेवार

गोपालगंज : बरौली के छोटा बढेयां में करेंट की चपेट में आने से दो मजदूरों की मौत का आखिर जिम्मेवार कौन है. घटना के बाद न तो विद्युत विभाग सामने आ रहा है और न कोई ठेकेदार. दो जून रोटी की जुगाड़ करने के लिए मजदूरी करने आये इन मजदूरों के घर अब चीखने के सिवा कुछ नहीं बचा है. गौरतलब है कि गत मंगलवार को छोटा बढेया में एयरटेल कंपनी के टावर के पास बिजली पहुंचाने के पाेल गाड़ने का काम हो रहा था. इस दौरान सवरेजी के वहां कार्यरत दो मजदूरों की मौत बिजली की चपेट में आने से हो गयी तथा अन्य घायल हो गये, जो अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं. घटनाक्रम पर नजर दौड़ायी जाये, तो विद्युतीकरण का यह काम चोरी- चुपके गैर कानूनी ढंग से हो रहा था, जिसमें विभाग की भूमिका भी संदिग्ध है. अब सवाल यह है कि आखिर  इन मजदूरों का दोष क्या था. महज चंद रुपये के लिए काम करने आये मजदूरों की कहानी मौत के साथ ही समाप्त हो गयी. अब तक इस पूरे मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई है.नहीं लिया गया था शट डाउन

imagesघटना के बारे में विद्युत विभाग के कनीय अभियंता बृजनंदन सिंह ने बताया कि  घटनास्थल पर काम का कोई वर्क ऑर्डर नहीं था और न काम के समय आपूर्ति बाधित करने के लिए शट डाउन लिया गया था. वहां फिलहाल विभाग का काम भी नहीं हो रहा है.

 

LEAVE A REPLY