हिमाचल प्रदेश : धर्मशाला बार एसोसिएश्न्न के वकील उतरे सड़कों पर,दो वकीलों कि हालत हुई ख़राब
हिमाचल प्रदेश : धर्मशाला बार एसोसिएश्न्न के वकील उतरे सड़कों पर,दो वकीलों कि हालत हुई ख़राब

अपनी मांगो को लेकर धर्मशाला कोर्ट में बार एसोशिएश्न के वकीलों द्वारा पिछले कुछ दिनों से बैठे भूख हड़ताल ने आज आन्दोलन का रुख ले लिया . बार एसोशियेशन का कहना है कि जब तक हाईकोर्ट और प्रदेश सरकार द्वारा सर्किट बेंच को बंद नही किया गया तब तक यह आन्दोलन इसी प्रकार जारी रहेगा. जिला बार एसोसिएश्न के अध्यक्ष टेक चंद राणा का कहना है कि जब सर्किट बेंच खोला गया था,तभी से सभी सुविधायों कि मांग भी कि गई थी,लेकिन उनकी मांगें उन्सुनी कि गई.उन्होंने कहा कि अगर सरकार नीतियाँ नही बना सकती तो सर्किट बेंच बंद किया जाना चाहिए.गौर रहे कि पहले भी इस प्रकार का आन्दोलन किया जा चूका है,लेकिन सरकार अभी तक कोई फेसला नही ले पाई है. उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांगे नही सुनी गई ,और सरकार ने यदि कोई ठोस कदम नही उठाया तो आमरण अनशन इसी प्रकार जारी रहेगा.आमरण अनशन के चलते आज दो वकीलों कि हालत खराब होने कि खबर है.
जिला काँगड़ा में पालमपुर,बैजनाथ,इन्दोर,ज्वाली,नूरपुर,देहरा व धर्मशाला में सर्किट बेंच काम कर रहे है,इन सभी क्षेत्रों के बार एसोसिएश्न ने धर्मशाला बार एसोसिएश्न का विरोध करना शुरू कर दिया है.
हड़ताल के कारण अदालती काम काज में भी बाधा रही, और कोर्ट में आए लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ा

LEAVE A REPLY