मनरेगा में इस वित वर्ष में खर्च किए 11 करोड़-

सांसद रामस्वरूप शर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में विभिन्न योजनाओं की समीक्षा-

राजीव कुल्लू ब्यूरो-

ग्रामीण विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं की जिला स्तरीय सतर्कता एवं मूल्यांकन समिति की बैठक वीरवार को बचत भवन में हुई। सांसद रामस्वरूप शर्मा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में मनरेगा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, इंदिरा आवास योजना, दीनदयाल उपाध्याय ज्योति योजना, जलागम विकास, स्वच्छ भारत मिशन, त्वरित ग्रामीण जल आपूर्ति कार्यक्रम, सांसद आदर्श ग्राम और ग्रामीण विकास से संबंधित कई अन्य योजनाओं की समीक्षा की गई। सांसद ने बताया कि कुल्लू जिला मंे इस वित वर्ष की पहली तिमाही में मनरेगा के तहत लगभग ग्यारह करोड़ की लागत से 1825 विकास कार्य पूरे कर लिए गए हैं। इस दौरान दो लाख से अधिक के कार्यदिवस अर्जित किए गए हैं। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत इस वर्ष जिला में 11 नए समूहों का गठन किया गया है और लगभग आठ लाख के ऋण दिए गए हैं। जलागम विकास परियोजना के तहत जिला को कुल 21 करोड़ 34 लाख का बजट दिया जा चुका है। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत जिला में इस वर्ष 1239 परिवारों के लिए शौचालय बनाए गए हैं। जिला के कुल 90,686 परिवारों में से अब शौचालय रहित घरों की संख्या केवल 3152 रह गई है। इसी वर्ष पांच सार्वजनिक शौचालय भी बनाए गए हैं। ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के लिए भी जिला को दस करोड़ 32 लाख मंजूर किए गए हैं। बैठक में सामाजिक सुरक्षा पैंशन, राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना, भू-अभिलेखों के कंप्यूटरीकरण और सांसद आदर्श ग्राम योजना की भी समीक्षा की गई। रामस्वरूप ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत ओल्ड मनाली गांव में विभिन्न विभागों के माध्यम से किए जा विकास कार्यों पर संतोष व्यक्त किया। इस मौके पर उपायुक्त हंसराज चैहान ने बताया कि जिला में ग्रामीण विकास से संबंधित सभी योजनाओं को प्रभावी ढंग से कार्यान्वित किया जा रहा है तथा इन योजनाओं का लाभ पात्र लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। बैठक में जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी भानु गुप्ता ने विभिन्न योजनाओं का विस्तृत ब्यौरा पेश किया। इस अवसर पर विधायक गोविंद सिंह ठाकुर और सभी संबंधित विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY