अब अवैध तरीके से संचालित विधालयो पर होगी क़ानूनी करवाई
गोपालगंज : बिना रजिस्ट्रेशन के चलने वाले प्राईवेट स्कूलों को अब खैर नही है , जिलाधिकारी राहुल कुमार ने प्राईवेट स्कूलों कि अवैध वसूली पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है ,अलग – अलग टीम बनाकर जिले में छापेमारी शुरू है , आपको बता दे कि प्राइवेट स्कूलों के संचालक अवैध वसूली कर अभिभावकों का आर्थिक शोषण कर रहे है , ऑपरेशन सीबीएसइ में नामांकन में फर्जीवाड़े का खुलासा होने के बाद शहर के प्राइवेट स्कूलों ने वर्ग नौ और 10 के क्लास को बंद कर दिया है. क्लास कब से शुरू होगा, इसका जवाब किसी स्कूल प्रशासन के पास नहीं है. यहां पढ़नेवाले जिले के 11 हजार छात्रों का भविष्य दावं पर है. तीन दिनों से बच्चे घर पर बैठे हैं. अभिभावकों की भी चिंता बढ़ी हुई है. बच्चों के भविष्य से प्राइवेट स्कूल खिलवाड़ कर रहे हैं. शहर के लगभग 30 प्राइवेट स्कूलों में सीबीएसइ बोर्ड के तहत बिना एफिलिएशन लिये 10 और +2 की पढ़ाई
प्राइवेट स्कूलों के 11 हजार…

करायी जाती है. इन छात्रों का नामांकन छपरा, मुजफ्फरपुर, दलसिंहसराय, समस्तीपुर, पटना, वाराणसी जैसे शहर के सीबीएसइ से एफिलिएशन वाले स्कूल में कराया जाता है. यहां क्लास चलाया जाता है. इसके लिए अभिभावकों से रजिस्ट्रेशन से लेकर परीक्षा तक में मनमानी की जाती है.

एक निजी चैनल ने नामांकन के नाम पर किस तरह का फर्जीवाड़ा हो रहा इसका खुलासा जब किया, तो गत बुधवार को डीएम राहुल कुमार ने तीन टीमों का गठन कर छापेमारी का आदेश दिया. इस आदेश पर ओएसडी देवेंद्र प्रताप शाही, डीसीएलआर विमल कुमार, डीआरडीए के निदेशक धनंजय कुमार के नेतृत्व में टीमों ने शहर के न्यूटन पब्लिक स्कूल, डॉ नंदी ग्रेस, सीबीएसइ पब्लिक स्कूल में छापेमारी की. इन स्कूलों में भी वर्ग आठ तक ही पढ़ाई कराये जाने की बात को स्वीकार किया,

जबकि नौ और 10 को बंद कर दिया गया था. इस छापेमारी के बाद खुद को बचने के लिए गोपालगंज, थावे, मीरगंज, सासामुसा, बथुआ बाजार, बरौली, बैकुंठपुर के कई प्राइवेट स्कूलों ने आठ से ऊपर के क्लास को बंद कर दिया है. प्रशासन की गतिविधि पर इनकी नजर लगी हुई है. स्कूल के संचालक अभिभावकों को फिलहाल कोई जवाब देने में सक्षम नहीं हो रहे हैं, जबकि डीएम राहुल कुमार ने बताया कि जांच रिपोर्ट का अभी अध्ययन किया जा रहा है. अध्ययन के बाद कार्रवाई के लिए सीबीएसइ बोर्ड को लिखा जायेगा.
तीन स्कूलों में छापेमारी के बाद बंद कर दिया गया क्लास

24_01_2016-school_copy

LEAVE A REPLY