अमित सेन गुप्ता ।
छत्तीसगढ़ सीमावर्ती क्षेत्र करंगरा के लगे ग्राम पौरा जो म.प्र सीमाअन्र्तर्गत आता है । उक्त स्थान की हजारो एकड भूमि IMG-20160718-WA0006 आसपास के पहाडो के धसकने का खतरा बढ गया है ।साथ ही वन्य क्षेत्र मे रह रहे बैगाआदिवासियो का जीवन भी संकट मे आ गया है । ग्राम पौरा अनुपपुर के राजे्नद्रग्राम तहसील मे आता है । उक्त कार्य मे वहां के पटवारी की भूमिका भी संदिग्ध है । जानकारी के अनुसार पटवारी द्वारा खनन माफियाो से प्रति सप्ताह हजारो रुपये वसूले जा रहे है । इसकी जानकारी अनुपपुर जिला कलेक्टर को भी दी जा चुकी है । परंतु अवैध उत्खनन पर अभी भी रोक नही लग पाई है । ज्ञात हो कि छ.ग. के ग्राम धनौली के क्रेशर संचालको द्वारा लीज ना मिलने की बजह से म.प्र के सीमा से लगे ग्राम पौरा मे उक्त कृत्य किया जा रहा है ।

LEAVE A REPLY