हिमाचल प्रदेश:समर्पण से जन सेवा को तत्पर रहें जवान: संजय कुमार
हिमाचल प्रदेश:समर्पण से जन सेवा को तत्पर रहें जवान: संजय कुमार

धर्मशाला, 28 जुलाई – पुलिस महानिदेशक संजय कुमार ने हिमाचल प्रदेश पुलिस बल के 696 अधिकारियों एवं आरक्षियों (690 आरक्षी, 5 डीएसपी, 1 एएसआई) को प्रशिक्षण पूरा करने के उपरांत पुलिस बल में शामिल किए जाने के अवसर पर आयोजित पासिंग आउट परेड से सलामी ली तथा परेड का निरीक्षण किया। पुलिस महानिरीक्षक जीडी भार्गव ने नव प्रशिक्षित अधिकारियों एवं आरक्षियों को सत्यनिष्ठा, सेवा, समर्पण एवं कर्तव्य परायणता की शपथ दिलवाई। डीएसपी मनोज ने परेड का नेतृत्व किया। समारोह में प्रशिक्षित आरक्षियों द्वारा भव्य मार्च पास्ट एवं वैपन पीटी, मार्शल आर्ट एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का प्रदर्शन किया गया।
पूर्व नियोजित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने पासिंग आउट परेड समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करनी थी, लेकिन किन्हीं अपरिहार्य कारणों से वह समारोह में नहीं पहुंच सके। मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में मुख्य संसदीय सचिव जगजीवन पाल ने महाविद्यालय परिसर में 53 लाख रूपये की लागत से निर्मित किए गए मंच का लोकार्पण किया। इस अवसर पर एडीजीपी एस के ओझा तथा मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार गोकुल बुटेल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी, डीसी रितेश चौहान एवं एसपी संजीव गांधी उपस्थित रहें।
उन्होंने पुलिस बल में शामिल होने जा रहे जवानों से आह्वान किया कि वे पूर्ण समर्पण एवं निःस्वार्थ भाव से आम लोगों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहें।
दर्शक दीर्घा में उपस्थित तमाम लोगों ने नव प्रशिक्षित अधिकारियों एवं आरक्षियों द्वारा प्रस्तुत विभिन्न टास्क एवं प्रस्तुतियों को सराहा। डीजीपी संजय कुमार ने पुलिस महानिदेशक ने प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में बेहतर प्रदर्शन करने वाले जवानों को पुरस्कृत भी किया।
इस अवसर पर पुरूष वर्ग में प्रथम रहने पर मनोज ठाकुर को और महिला वर्ग में प्रथम रही भारती को ऑल राउंड फर्स्ट के पुरस्कार से नवाजा गया। रेंज क्लासीफिकेशन की श्रेणी में रोशन को जबकि बाहा्र गतिविधियों की श्रेणी में अभिषेक और इंडोर श्रेणी में दमयंती को प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया। रविन्द्र कुमार को बेस्ट इंन्स्ट्रक्टर के पुरस्कार प्रदान किया गया। इसके अतिरिक्त, अन्य श्रेणियों में डीएसपी अनिल कुमार को प्रथम, रिंकेश को द्वितीय और निर्मल को तृतीय पुरस्कार से नवाजा गया।
समारोह में एडीजीपी एसआर ओझा ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
समारोह में पुलिस अधिकारियों एवं आरक्षियों के अभिभावक तथा परिजन उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY