पटना. अपराधियों ने कंपाउंडर सुधीर कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना शुक्रवार रात लगभग साढ़े नौ बजे बेउर थाना के 70 फीट पर केनरा बैंक की एटीएम के पास हुई। अपराधियों ने 40 वर्षीय सुधीर को घर से तीन सौ मीटर पहले 70 फीट मेन रोड पर उस वक्त रोककर सामने से गोली मारी, जब वे मीठारपुर स्थित डॉ. संजीत कुमार की क्लीनिक से बाइक से लौट रहे थे।
वे डॉ. रंजीत के यहां कंपाउंडर के साथ एक्स-रे टेक्निशयन थे। सूचना मिलने पर स्थानीय लोग परिजन उन्हें निजी अस्पताल ले गए। डॉक्टरों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया। पीएमसीएच पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो गई।
रास्ते के लिए चल रहा था विवाद
सुधीर का 70 फीट महावीर नगर में तीन तल्ला मकान है। घटना के मूल में पड़ोसी रामलखन प्रसाद से रास्ता का विवाद है। परिजनों ने रामलखन उसके बेटों पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस रामलखन को हिरासत में लेकर पूछताछ करने में जुटी है। पुलिस को मृतक का मोबाइल और बाइक भी मिल गई है।
कई बार दे चुका था धमकी
सुधीर के पिता ने बताया कि रामलखन ने सुधीर की हत्या करने की धमकी दी थी। रामलखन को सुधीर ने ही जमीन खरीदवाई थी। सुधीर नालंदा के अस्थावां थाना के मोहम्मदपुर गांव निवासी श्याम सुंदर के छोटे बेटे थे। श्याम सुंदर हाल ही में सचिवालय सहायक पद से रिटायर्ड हुए हैं।
सुधीर के बड़े भाई सुनील कुमार वाराणसी में केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक हैं। उनकी मां राजकुमारी देवी बक्सर में नर्स हैं। सुधीर को 15 साल की एक बेटी तन्नू और चार साल का एक बेटा नमन है। महावीर नगर स्थित घर में सुधीर के पिता, उनकी पत्नी सुलेखा कुमारी और उनके बड़े भाई का परिवार रहता है। दस साल मकान बनाकर ये लोग यहां रह रहे हैं।

hatya_1469855257

LEAVE A REPLY