हिमाचल प्रदेश:किसान जैविक खेती को दें बढ़ावाः ठाकुर सिंह भरमौरी
हिमाचल प्रदेश:किसान जैविक खेती को दें बढ़ावाः ठाकुर सिंह भरमौरी

धर्मशाला, 30 जुलाईः वन एवं मत्स्य पालन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने आज वन विभाग एवं लायंस क्लब धर्मशाला द्वारा आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम में धर्मशाला परिधि गृह के समीप अर्जुन का पौधा लगाकर 67वें वन महोत्सव का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर वन निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया भी उनके साथ उपस्थित थे तथा उन्होंने भी आंवला का पौधा रोपित किया।
इस अवसर पर वन मंत्री ने लोगों से आह्वान किया कि वे मानसून ऋतु में अधिक से अधिक पौधे लगाकर जलवायु को स्वच्छ रखने में अपना पूरा सहयोग दें। उन्होंने कहा कि खेती-बाड़ी में कीटनाशक दवाओं व हानिकारक केमिकल का उपयोग न करंे। उन्होंने किसानों से जैवकि खेती को अधिक से अधिक अपनाने का आग्रह किया। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे वन विभाग की नर्सरी में कीटनाशक दवाओं व हानिकारक केमिकल का उपयोग न करें, बल्कि जैविक खाद का उपयोग करें।
इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में वर्ष 2013-15 के दौरान एक करोड़ औषधीय पौधे रोपित किए गए हैं। वर्तमान वित्त वर्ष में 45 लाख और औषधीय पौधे रोपने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
कार्यक्रम में वन निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया ने भी लोगों से वनों को बचाने व पर्यावरण संरक्षण में अपना सहयोग देने की अपील की।
इस अवसर पर लायंस क्लब के अधिकारियों, वरिष्ठ नागरिकों एवं वन विभाग तथा इको टास्क फोर्स ने भी विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधे रोपित किए।
इस दौरान वन विभाग के चीफ कंजरवेटर डॉ0 पवनेश, वन मण्डलाधिकारी धर्मशाला प्रवीण ठाकुर, एसीएफ धर्मशाला सन्नी वर्मा, वासु कौशल, रघु राम मानव, आरके डोगरा, लाइंस क्लब धर्मशाला के पदाधिकारी तथा वरिष्ठ नागरिक मौजूद थे।

LEAVE A REPLY