नई दिल्ली/नवीन कुमार:-बीते सोमवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे दिल्ली के उत्तम नगर इलाके में दिन-दहाड़े फायरिंग होने से एक बार फिर दिल्ली पर सवाल उठता है की अपराधियों में दिल्ली पुलिस का कोई खौफ  नहीं है . गुंडई, दबंगई और अवैध हथियार रखने वाले सिर्फ चम्बल-घाटी या बिहार,उत्तर प्रदेश  के पिछड़े इलाकों में ही नहीं हैं, बल्कि दिल्ली जैसे शहर में भी आपराधिक मानसिकता के लोगों में काफी बढ़ोत्तरी हो चुकी है, जो लगातार जारी है. हालाँकि, और जगहों की अपेक्षा केंद्र नियंत्रित दिल्ली पुलिस काफी सक्रिय  है, जिससे अधिकांश मामलों में आरोपी दबोच लिए जाते हैं. गौरतलब है कि उत्तम नगर थाने में दर्ज एफआईआर न.  0668, दिनांक: 29 अगस्त 2016 को सम्बंधित मामले में आरोपी पर आईपीसी 1860 के अन्तर्गत धरा 307 लगाई गयी है, जो अपराध की गंभीरता आप ही बताता है. अनूप कुमार सिंह की  दर्ज कराई गयी शिकायत के अनुसार अनूप कुमार सिंह के प्लाट पर लेंटर का काम चल रहा है जिसमे एक दो बल्ली रास्ते में पड़ी हुई थी इसी बात से नाराज आरोपी प्रवेश ने गाली गलौज  करनी शुरु कर दी जब प्रवेश की इस बदतमीजी का विरोध किया तो प्रवेश को ये नागवार गुजरा   पहले तो गाली-गलौच की बाद में उसका विरोध  उसका होने  पर पास ही स्थित प्रवेश  अपने घर से हथियार (कथित रूप से अवैध हथियार) लाया और एक के बाद एक तीन फायर किये. इसमें   शिकायतकर्ता और उसकी माँ के बिलकुल पास से   गोलियां निकल गयीं, जिसमें से दो गोलियां पुलिस ने कथित रूप से बरामद भी कर ली हैं, जबकि मौक़ा-ए-वारदात पर उपस्थित लोगों ने बाद में बताया कि तीसरी गोली आरोपी की माँ को मिल गयी. यह पूरी घटना दिन के 12.30 बजे की है और दिन दहाड़े फायरिंग सुनकर पूरा मोहल्ला दहशत में आ गया. बाद में इस बात की जानकारी भी मिली कि आरोपी की गुंडई से पूरा मोहल्ला परेशान था और इसी को लेकर मोहल्ले के सभी लोगों में रोष व्याप्त है . मोहल्ले के दर्जनों पुरुषों एवं महिलाओं ने घटना के ही दिन, उत्तम नगर थाने में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई. ख़बर लिखे जाने तक आरोपी द्वारा इस्तेमाल किये गया हथियार बरामद नहीं किया जा सका है, किन्तु पुलिस इसकी बरामदगी की भरपूर कोशिश में लगी हुई है. थाने पर पहुंचे मोहल्ला वासियों की शिकायतों को ध्यान से सुनकर थानाध्यक्ष उत्तम नगर ने इस मामले में जरूरी कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है, जिसमें इस्तेमाल हथियार की बरामदगी भी शामिल है. कथित तौर पर आरोपी की माँ एवं आरोपी के भाई ने कई मोहल्लावासियों  को धमकी भी दी है. हालाँकि, पुलिस की सक्रियता से इस मामले में लोगों को न्याय की उम्मीद बढ़ गयी है.सवाल ये भी है की क्या बदमाशो में दिल्ली पुलिस का कोई खौफ नहीं है

 

 

LEAVE A REPLY