नवीन कुमार / नई दिल्ली: आप के प्रवक्ता आशुतोष ने अश्लील सीडी विवाद में फंसे दिल्ली सरकार के पूर्व महिला विकास और बाल कल्याण मंत्री संदीप कुमार का बचाव करते हुए कहा है कि संदीप ने कुछ भी ऐसा  गलत नहीं किया है,उन्होंने पार्टी से निकाले गए  संदीप का बचाव करते हुए कहा कि  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरु और पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के भी सामाजिक और नैतिक दायरे से बाहर जाकर दूसरी महिलाओं से शारीरिक संबंध  रहे हैं। आशुतोष ने जो की पहले जाने माने पत्रकार थे  ने  अपने ब्लॉग में लिखा है कि यदि संदीप ने किसी अन्य महिला के साथ उसकी रजामंदी से संबंध बनाए हैं तो इसमें गलत क्या है। उन्होंने कोई जोर जबरदस्ती नहीं की है। न तो उस महिला ने संदीप के परिवार के किसी सदस्य या पुलिस से इसकी शिकायत की। ऐसा भी नहीं है कि संदीप ने किसी काम के एवज में महिला पर ऐसा करने का दबाव बनाया हो। जब ऐसी कोई बात नहीं है और संबंध आम सहमति से बने हैं तो फिर संदीप के चरित्र पर सवाल क्यों उठाए जा रहे हैं। भारत के राजनीतिक इतिहास में ऐसे उदाहरण भरे पड़े हैं जिनमें कई जानी-मानी हस्तियों के अन्य महिलाओं से कथित संबंध रहे या फिर वह उनके प्रति आकर्षित हुए। आम आदमी पार्टी नेता ने इस संबंध में नेहरू और एडविना माउंटबेटन तथा गांधी जी और रवींद्र नाथ टैगोर की दूर की रिश्तेदार सरला चौधरी के बीच के रिश्तों का विशेष रूप से जिक्र करते हुए कहा कि नेहरुजी और एडविना के बीच गहरे लगाव के चर्चे उन दिनों आम थें, सारी दुनिया इससे वाकिफ थी। उन्होंने कहा कि एडविना के अलावा भी नेहरु जी के अपनी कई सहकर्मी महिलाओं के साथ रिश्तों की खूब खबरें चला करती थीं, तब तो किसी ने इस पर सवाल नहीं उठाया। न ही इन रिश्तों की वजह से उनका राजनीतिक करियर प्रभावित हुआ। उन्होंने कहा कि गांधी जी के सरला चौधरी के साथ लगाव से उनकी पत्नी कस्तूरबा बहुत परेशान रहती थीं। आशुतोष ने कहा कि वाजपेयी के भी एक महिला के साथ रिश्तों के चर्चे रहे हैं।

LEAVE A REPLY