जाने  आखिर क्या है पूरा मामला ?

गोपालगंज : लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रिय महासचिव बिनय कुमार दुबे ने गोपालगंज के नगर थानाध्यक्ष संतोष कुमार सहित सब इंस्पेक्टर ब्रजेश सिंह पर अपने दुश्मनों के साथ मिलकर हत्या के संजिस करने का आरोप लगाया है . इस सम्बन्ध में लोजपा नेता ने पत्र लिखकर अधिकारियो से न्याय कि गुहार लगाई है . अपने द्वारा लिखे गए पत्र में लोजपा नेता ने कहा है कि मै अपने निजी काम से 31.08.2016 को एसडीपीओं साहेब से मिलने दफ्तर जा रहा था , रस्ते में राजिष्टरी कचहरी के गेट पर तैनात पुलिस कर्मी श्री ब्रजेश सिंह  मुझे रोक लिए , मैंने सिर्फ इतना ही कहा की मुझे नही पता कि कोर्ट परिसर में आर्म्स ले जाना माना है , मुझे किसी काम से एसडीपीयो साहेब से मिलना है , मै वहा से वापस जाने लगा इसी कर्म में मेरा दुश्मन सचिन सिंह आया और सब- इंपेक्टर से कह कर की ये मेरा दुश्मन है इसे तुरंत गिरफ्तार कीजिए , इतना सुनते ही पुलिस कर्मी ने मुझे गिरफ्तार कर थाने लाया , थाना में लाने के बाद मेरा लाईसेंसी रिवालवर जिसका लाईसेंस नम्बर 09/14 है और मोबाइल ले लिए , मै अपने लाईसेंसी हथियार और मोबाइल के लिए कई बार थाने में गया , थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने थाने से हमे गाली गलौज कर भगा दिए , गोपालगंज के नगर थानाध्यक्ष संतोष कुमार और सब इंस्पेक्टर ब्रजेश सिंह का मेरे दुश्मनों के साथ साठ- गाठ है ये लोग कभी भी मेरे साथ का अप्रिय घटना करा सकते है ,

इस बारे में क्या कहते है नगर थानाध्यक्ष

बिनय दुबे कोर्ट परिसर में हथियार लेकर गये थे , जबकि कोर्ट परिसर में कोइ भी आदमी हथियार लेकर नही जा सकता है , सांजिस कि बात सरासर गलत है , मेरा किसी के साथ कोइ संबंध नही है , अगर वरीय अधिकारियो का आदेश होगा तो मै उसका अनुपालन करुगा .

संतोष कुमार , नगर थानाध्यक्ष , गोपालगंज

 14199163_323262434689367_4186843388523691721_n

LEAVE A REPLY