नवीन कुमार /नई दिल्ली :-उत्तरी व दक्षिणी दिल्ली नगर निगम द्वारा आज डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविक सेंटर मुख्यालय में गांधी जयंती के अवसर पर गांधी मेले का आयोजन किया गया। इस मेले का शुभारंभ उत्तरी दिल्ली के महापौर डॉ  संजीव नैय्यर द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। इस अवसर पर पार्षद श्री रमेश दत्ता व अतिरिक्त आयुक्त श्री दीपक हस्तीर भी उपस्थित थे।इस अवसर पर डॉ नैय्यर ने गांधी जी के कहे वाक्य को स्मरण करते हुए कहा कि “मेरा जीवन मेरा संदेश है, और दुनिया में जो बदलाव तुम देखना चाहते हो वह तुम्हें खुद लाना होगा।“ उन्होंने कहा कि गांधी जी के इन्हीं वाक्यों को लेकर हमें आगे बढ़ना है और सकारात्मक बदलाव लाने है।महापौर ने कहा कि दो अक्टूबर के दिन गांधी जी और श्री लाल बहादुर शास्त्री के नाम के दो फूल खिले थे जिसने पूरे विश्व को अपने कार्यों से महका दिया। उन्होंने कहा कि गांधी जी के सत्य अहिंसा के दिखाए मार्ग पर हम आज भी चल रहे है, और शास्त्री जी का दिया हुआ नारा “जय जवान जय किसान“ आज भी हमारे देश की नींव में बसा है।डॉ संजीव नैय्यर ने इस अवसर पर आयोजित चरखा यज्ञ का भी शुभारंभ किया और इसे अत्यंत प्रेरणादायक बताया। उन्होंने कहा कि स्वदेशी की भावना जगाकर ही बापू द्वारा पूरे भारत के लोगों को एक सूत्र में पिरोया गया था और इससे ही ब्रिटिश शासन में हलचल प्रारंभ हुई थी।इस अवसर पर आयोजित म्यूजिकल पेंटिंग, निगम विद्यालयों के बच्चों द्वारा रंगारंग व देश भक्ति से ओत-प्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति पर महापौर ने हर्ष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि निगम के बच्चों में इतना आत्मविश्वास देखकर “हम किसी से कम नहीं“ की भावना प्रबल होती हैं। उन्होंने इस अवसर पर नया नारा दिया कि “सबसे आगे हम“ और हमें इसे साकार करना है। इस अवसर पर निगम विद्यार्थियों द्वारा विज्ञान प्रदर्शनी व खादी प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।इस अवसर पर उत्तरी व दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।

LEAVE A REPLY