शहरी विकास मंत्री ने किया धर्मशाला अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का शुभारंभ
शहरी विकास मंत्री ने किया धर्मशाला अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का शुभारंभ

कहा … फिल्में समाज एवं संस्कृति का दर्पण
धर्मशाला, 03 नवम्बर -शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि फिल्में समाज एवं संस्कृति को प्रकट करती हैं। फिल्म समारोह विभिन्न राष्ट्रों के फिल्मकारों को एक मंच पर एकत्र होकर अपनी रचनायें प्रदशर््िात करने एवं एक दूसरे के अनुभवों से सीखने का बेहतर मंच प्रदान करते हैं, साथ ही अलग-अलग संस्कृतियों को जानने-समझने में भी सहायक होते हैं। वे आज धर्मशाला के मैकलोड़गंज के समीप अप्पर टीसीवी सभागार में आयोजित धर्मशाला अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का उद्घाटन करते हुये बोल रहे थे।
शहरी विकास मंत्री ने फिल्म महोत्सव की निदेशक रितु सरीन के प्रयासों की सराहना करते हुये भविष्य में भी महोत्सव के सफल आयोजन में प्रदेश सरकार की ओर से हर सम्भव सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें अवगत करवाया गया है कि महोत्सव में हिमाचली फिल्में भी प्रदशर््िात की जायंेगी, जो बेहद उत्साहवर्धक एवं प्रशंसनीय है।
इस दौरान उन्होंने धर्मशाला अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के आयोजकों द्वारा स्थानीय स्कूलों एवं देशभर के फिल्म संस्थानों के लिए आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत किया।
महोत्सव के शुभारंभ पर सुप्रसिद्ध कन्नड़ फिल्म तिथि दिखाई गई।
इस अवसर पर उपमहापौर देवेन्द्र जग्गी, अतिरिक्त मुख्य सचिव दीपक सानन, उपायुक्त कांगड़ा सीपी वर्मा, पुलिस अधीक्षक संजीव गांधी व देश-विदेश के फिल्मकार एवं सिनेमाप्रेमी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY