शिक्षा पर व्यय किये जा रहे है 6013 करोड़: सुधीर शर्मा
रक्कड़ स्कूल के मेधावियो को किया सम्मानित
धर्मशाला, 02 दिसम्बर: प्रदेश सरकार राज्य में शिक्षा गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये कृतसंकल्प है तथा चालू वित्त वर्ष मंे शिक्षा पर 6013 करोड़ रूपये व्यय किये जा रहे हैं। धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में सड़क, शिक्षा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र के साथ-साथ अन्य विकास कार्य भी निरंतर जारी हैं। शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा आज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला रक्कड़ के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में बोल रहे थे।
शर्मा ने कहा कि विद्यार्थियों की सुविधा के लिये ”मुख्यमंत्री आदर्श विद्यालय योजना“ के अर्न्तगत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के दो वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में 30 करोड़ रूपये की लागत से आधुनिक अधोसंरचना तथा शैक्षणिक सुविधायें सृजित की जा रही हैं।
चुनौतियों का मुकाबला करने में सक्षम बनें विद्यार्थी
शर्मा ने विद्यार्थियांे से आहवान किया कि वे शिक्षा के साथ-साथ खेल, सांस्कृतिक गतिविधियों में भी बढ़-चढ़ कर भाग लें। उन्होंने अध्यापकों से कहा कि वे विद्यार्थियों को हर गतिविधियों में भाग लेने के लिये प्रेरित करें ताकि वह भविष्य में आने वाली चुनौतियों का मुकाबला करने के लिये सक्षम हो सकें। उन्होंने कहा कि रक्कड़ में स्कूल के भवन निर्माण हेतु जमीन की समस्त औपचारिकतायें पूर्ण होने के पश्चात् सुन्दर स्कूल भवन का निर्माण किया जायेगा।
प्रधानाचार्य अश्वनी भट्ट ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये। शहरी विकास मंत्री ने मेधावी विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया। सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये अपनी ऐच्छिक निधि से 20 हजार रूपये देने की घोषणा की।
खन्यारा-रक्कड़ वाया टिल्लू नड्डी सड़क और साम्भर-लाहर-थातरी सड़क निर्माण का किया भूमि पूजन
सुधीर शर्मा ने 279.74 लाख रूपये की लागत से निर्मित होने वाली खन्यारा-रक्कड़ वाया टिल्लू नड्डी सड़क निर्माण का भूमि पूजन किया। इस सड़क पर मनूनी खड्ड पर एक पुल का निर्माण भी शामिल है। इस सड़क के बनने से रक्कड़, टिल्लू, नड्डी तथा लूंटा के साथ अन्य क्षेत्रों को भी लाभ मिलेगा। इसके साथ ही नगर नियोजन मंत्री ने 328.54 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाली साम्भर-लाहर-थातरी सड़क निर्माण का भूमि पूजन किया। इन दोनों सड़कों का निर्माण कार्य नाबार्ड परियोजना के अर्न्तगत करवाया जा रहा है। शर्मा ने कहा कि सड़कें ग्रामीण आर्थिकी का एक महत्वपूर्ण अंग तथा प्रदेश के विकास की जीवन रेखायें हैं। प्रदेश सरकार ने सड़कों व पुलों के निर्माण तथा बेहतर रख-रखाव को अपनी प्राथमिक सूचि में प्रमुख स्थान दिया है। राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों को सड़कों से जोड़ने पर विशेष बल दिया जा रहा है।
पेयजल योजना खन्यारा, मोहली, ठेहड व पटोला के सम्वर्धन एवं सुधार का किया शिलान्यास
इसके उपरांत शहरी विकास मंत्री ने 538 लाख रूपये की लागत से बनने वाली पेयजल योजना खन्यारा, मोहली, ठेहड व पटोला के सम्वर्धन एवं सुधार का शिलान्यास किया। इस योजना के बनने से क्षेत्र के 17300 से अधिक लोग लाभान्वित होंगे। उन्हांेंने कहा कि प्रदेश सरकार सभी को स्वच्छ पेयजल  तथा किसानों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाने हेतु वचनबद्ध है।
इस अवसर पर धर्मशाला नगर निगम की महापौर रजनी व्यास, उप महापौर देवेन्द्र जग्गी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष राकेश धीमान, शहरी कांग्रेस अध्यक्ष आरपी चोपड़ा, एसडीएम श्रवण मांटा, अधीक्षण अभियंता हिमुडा सुरेन्द्र वशिष्ठ, अधीक्षण अभियंता आईपीएच एलएस ठाकुर, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विजय चौधरी, सहायक अभियंता लोक निर्माण सुशील ढडवाल, उपनिदेशक उच्च शिक्षा कमल किशोर गुप्ता, सहायक अभियंता हिमुडा एचएल धीमान, एसएमसी प्रधान रूप लाल, पंचायत प्रधान कस्तूरबा शर्मा, उप प्रधान राजीव शर्मा सहित बच्चों के अभिभावक, विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY