पटना (बिहार).एटीएम गार्ड1_1481758771हत्यारे शुभम कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। शुभम गोलघर शिवमंदिर गली का रहने वाला है। कुंदन भी वहीं रहता था। पटना पुलिस की विशेष टीम ने शुभम को ईको पार्क के पास से गिरफ्तार किया। खून से सनी तलवार, खंती (लोहे की नुकीली रॉड) और कंबल भी बरामद किया गया है। पूछताछ के दौरान उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। जानिए पूछताछ में शुभम ने क्या बताया…
– शुभम ने बताया कि वह लूट के इरादे से ही एटीएम में गया था। एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि लूट के लिए ही घटना को अंजाम दिया गया था।
– शुभम ड्रग्स एडिक्ट है और कुछ दिन से गलत संगति में था। स्पीडी ट्रायल के तहत अपराधी को सजा दिलवाई जाएगी।
– घटना को अंजाम देन से पहले शुभम ने ड्रग्स का सेवन किया था। नशे की हालत में वह कंबल में खंती और तलवार को छिपाकर 9 दिसंबर की मध्य रात्रि एटीएम लूटने लिए निकल पड़ा।
– उसने पटना जंक्शन, डाकबंगला चौराहा और आसपास की छह एटीएम का जायजा लिया। लेकिन, गार्ड को जगते देख कहीं भी घटना को अंजाम नहीं दे सका।
– इसके बाद वह मौर्यालोक स्थित सेंट्रल बैंक की एटीएम के पास आया। शुभम को पता था कि इस एटीएम का गार्ड उसके मोहल्ले का है। वह फिलहाल अस्वस्थ और विकलांग भी है।
सीसीटीवी फुटेज में ये दिखा
– सीसीटीवी फुटेज के अनुसार, वह रात के लगभग 3 बजे एटीएम में पहुंचा। उस वक्त वहां से बारात भी गुजर रही थी। साथ ही उसे कुंदन एटीएम में नहीं दिखा।
– इसके बाद वह एटीएम के अंदर गया और शटर को गिरा दिया। शटर की आवाज सुन गार्ड रूम में सोया हुआ कुंदन जग गया और शुभम को पहचान लिया।
– शुभम ने उसपर तलवार से वार कर दिया। गार्ड ने शुभम को रोकने की कोशिश की। तब शुभम ने वहां रखे अग्निशमन यंत्र से उसपर स्प्रे कर दिया।
– इसके बाद गर्दन पर तलवार से वार कर दिया, जिससे वह वहीं गिर गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। शुभम ने खंती से एटीएम तोड़ने की कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो सका।
पैसे की थी जरूरत, लूटने गया था एटीएम
– शुभम कई माह से बेरोजगार था। फ्रिज मैकेनिक शुभम कुछ दिन तक एक-दो मॉल में काम किया था। नशे की लत के कारण वह कुछ कर नहीं सका था।
– कुछ माह पहले मां और खुद के इलाज में लगभग डेढ़ लाख खर्च किए थे। आगे भी पैसे की आवश्यकता थी। उसके संबंध अपराधियों से भी हो गए थे।
– इस कारण मोहल्ले में धौंस दिखाता था। शुभम की ननिहाल कुर्जी बालू पर है। घटना के दिन वह ननिहाल से ही चला था।
मशीन का डीवीआर मंदिरी नाले में फेंका
– शुभम मंदिरी और म्यूजियम होते हुए गया था। हत्या के बाद उसी रास्ते घर लौटा। शुभम अपने साथ दो डीवीआर ले गया, जिसे उसने मंदिरी नाले में फेंक दिया।
– खंती और तलवार को उसने म्यूजियम के पास छिपा दिया था। एटीएम के अंदर के सीसीटीवी का डीवीआर पुलिस के हाथ लग गया, जिसमें एटीएम तोड़ते हुए शुभम की तस्वीर कैद हो गई थी।
– इस तस्वीर को म्यूजियम के पास वाले फुटेज से पुलिस ने मिलाया और आसपास के लोगों से और मंदिरी के लोहार से पूछताछ की। सभी ने उसे पहचान लिया।

LEAVE A REPLY