img-20170111-wa0000अवैध रिश्ते के खातिर बेवफा बीवी, ने पति को उतारा मौत के घाट

बैकुंठपुर. फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मंगलवार को प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या करने वाली आरोपी पत्नी, उसके प्रेमी सहित 4 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आरोपियों पर जुर्माना भी लगाया है। जुर्माने की राशि नहीं पटाने पर 6-6 महीने अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।

 

न्यायालय से मिली जानकारी के अनुसार कोरिया कॉलरी चिरिमिरी निवासी तापश उर्फ सुप्रियो मजूमदार (36) की पत्नी रूमा मजूमदार (36) का जयनगर सूरजपुर निवासी दुलाल चक्रवर्ती पिता दीपक चक्रवर्ती (20) के साथ अवैध संबंध चल रहा था। इसके बाद पत्नी ने अपने पति को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची थी। इसके बाद पत्नी व प्रेमी सहित 4 आरोपियों ने मिलकर 21 फरवरी 2013 की रात सुनियोजित तरीके से पति की घर में ही हत्या कर दी थी।

 

मामले में पुलिस ने जांच कर रिपोर्ट फास्ट ट्रैक कोर्ट में प्रस्तुत किया था। फास्ट ट्रैक कोर्ट मामले की सुनवाई कर आरोपी पत्नी रुमा मजूमदार, प्रेमी दुलाल चक्रवर्ती, भीम कुमार पिता शिव प्रसाद (20), मोती लाल पिता पटलाल चेरवा (20) अजिरमा निवासी को धारा 302 में आजीवन कारावास व 500 रुपए जुर्माना, धारा 120 बी में आजीवन कारावास व 500 रुपए जुर्माना और धारा 201 में सात साल कारावास व 500 रुपए जुर्माना से दंडित किया है। जुर्माने की राशि नहीं पटाने पर सभी धाराओं में 6-6 महीने अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।

 

बेटी को नशीली दवा पिलाकर सुला दी थी पत्नी

न्यायालय से मिली जानकारी के अनुसार घटना की रात आरोपी पत्नी ने अपनी 13 साल की बेटी को नशीली दवाई पिलाकर कमरे में सुला दी थी और फुर्सत से प्रेमी सहित अन्य आरोपियों के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी थी। इस दौरान बेटी गहरी नींद में सो रही थी और पुलिस के पहुंचने तक नहीं उठ पाई थी।

 

घर में लूट का मचाया था शोर

पति की बेरहमी से हत्या कर आरोपी पत्नी ने अपने प्रेमी को घर का गहना-जेवर देकर फरार कर दिया था और आधी रात को पड़ोसियों का दरवाजा खटखटाकर घर में लूट होने की जानकारी दी। स्थानीय पड़ोसियों की मदद से कोरिया चौकी को सूचना दी गई। सूचना पर पुलिस पहुंची और मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी थी।

LEAVE A REPLY