(शैलेश कुमार पाण्डेय )

नई दिल्ली/गया.बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में पहली पोस्टिंग पर जा रहे 59 ट्रेनी कोबरा कमांडो ट्रेन से उतरकर भाग गए। इनमें से किसी के पास हथियार नहीं थे। घटना रविवार को मुगलसराय में हुई। कमांडोज की हरकत को अनधिकृत गैर-हाजिरी बताते हुए सीआरपीएफ ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिए हैं।

अधिकतर जवान यूपी और बिहार के1_1486421776

नक्सल विरोधी कोबरा दस्ते के 59 ट्रेनी कमांडोज को श्रीनगर स्थित ट्रेनिंग सेंटर में पांच हफ्ते की बेसिक ट्रेनिंग दी गई थी।
– इनकी पहली तैनाती बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में होनी थी। इन्हें गया स्थित 205वीं कोबरा यूनिट में सोमवार को रिपोर्ट करनी थी।
– लेकिन रविवार को मुगलसराय स्टेशन पर सभी ट्रेन से उतर गए। ड्यूटी से भागकर कोई घर तो कोई अज्ञात जगह चला गया।
– साल 2011 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए यह कमांडो कांस्टेबल रैंक के हैं। इनमें से ज्यादातर बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं।
– नक्सली हिंसा और पूर्वोत्तर में उग्रवादियों से निपटने के लिए सीआरपीएफ में साल 2009 में कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन (कोबरा) गठित की गई थी।
– ट्रेनिंग खत्म होने के बाद 2 फरवरी को सभी जम्मूतवी-सियालदह एक्सप्रेस से गया के लिए रवाना हुए थे। गृह मंत्रालय ने इस मामले को गंभीरता से लिया है।
ट्रेनर्स ने कई कमांडो से किया संपर्क
– सीआरपीएफ के अनुसार बिना अनुमति गए कुछ कमांडोज से उनके प्रशिक्षकों ने संपर्क किया है।
– इनमें से कुछ लोग मंगलवार तक लौटने की बात कह रहे हैं।
– अधिकारी अभी यह जांच कर रहे हैं कि एक साथ सभी 59 लोगों ने भागने का फैसला कैसे लिया।
कमांडेंट ने भी माना, गया नहीं पहुंचे हैं जवान
– गया स्थित कोबरा कैम्प के कमांडेंट ने पहले तो इस तरह की बातों को हौवा बताया।
– किन्तु अंतत यह स्वीकार किया कि कोबरा कैम्प के लिए श्रीनगर से आने वाले कमांडो गया नहीं पहुंचे हैं।
– वहीं, मगध प्रक्षेत्र डीआईजी सौरभ कुमार ने बताया कि इस मामले की उन्हें किसी तरह की जानकारी नहीं है। मामला संज्ञान में आया है, तो इसे देखा जाएगा।
रेल अफसरों के उड़े होश
– सीआरपीएफ के 59 जवानों के मुगलसराय में गायब होने की खबर पर रेल सुरक्षा अधिकारी के होश उड़ गए।
– सीआरपीएफ की ओर से जवानों की कुशलता की जानकारी मिलने पर इन्होंने राहत की सांस ली।
– जवानों को ट्रेनिंग पूरी कर गया में कोबरा 205 बटालियन यूनिट में योगदान देना था।

LEAVE A REPLY