नवीन कुमार /नई दिल्ली :-केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रॉद्यौगिकी मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज वार्ड क्रमांक 62 रामपुरा, लेवल क्रॉसिंग 5-बी में 19.20 करोड़ की लागत में नवनिर्मित अधोगामी पुल का उद्घाटन किया। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में उत्तरी दिल्ली के महापौर डॉ संजीव नैय्यर, निगम पार्षद श्री तिलकराम व श्री सुरेश उपस्थित थे।
इस अवसर पर डॉ हर्षवर्धन ने उत्तरी दिल्ली नगर निगम व भारतीय रेलवे को इस पुल के निर्माण के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि हमेशा उनके द्वारा किए गए विकास कार्यों के लिए याद किए जाते है। उन्होंने उत्तरी दिल्ली नगर निगम की वित्तीय संकट के बाद भी विकास कार्यों के प्रति प्रतिबद्धा की प्रशंसा की। उन्होंने निगम के अभियांत्रिकी विभाग की सराहना की कि किसी भी स्थिती में उनके द्वारा विकास कार्यों में कोई रूकावट नहीं आने दी गई है। उन्होंने अद्योगामी पुल के निर्माण को उदाहरण बताते हुए कहा कि कैसे मुश्किलों से जूझ कर नागरिकों के बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कई विभागों द्वारा पूरी मेहनत से कार्यों को पूरा किया जा रहा है।
महापौर डॉ संजीव नैय्यर ने इस अवसर पर कहा कि इस अधोगामी पूल के निर्माण से क्षेत्र के यातायात व्यवस्था को बनाए रखने में सुविधा मिलेगी। उन्होंने कहा कि रेलवे और उत्तरी दिल्ली नगर निगम के सहयोग के कारण इस पुल का निर्माण शीघ्रता से संभव हो पाया है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय स्तर व निगम स्तर में एक ही पार्टी के होने से यह विकास कार्य संभव हो पाया। उन्होंने कहा कि वित्तीय संकट के बावजूद भी कभी निगम द्वारा विकास कार्यों में कोई कटौती नही की गई।
इस अधोगामी पुल को बनाने में 19.20 करोड़ की लागत आई है जिसमें से 11.20 करोड़ रूपये भारतीय रेल के द्वारा खर्च किया गया है। इस अधोगामी पुल के पंजाबी बाग की तरफ 21 मीटर का निर्माण निगम द्वारा व 70 मीटर का निर्माण रेलवे द्वारा करवाया गया है। इसके साथ ही रामपुरा की तरह 75 मीटर का निगम उत्तरी दिल्ली नगर निगम व 8 मीटर का निर्माण रेलवे द्वारा किया गया है।
डॉ हर्षवर्धन ने रामपुरा में सांसद निधी से निर्मित आधुनिक शौचालय ब्लॉक का भी उद्घाटन किया।

LEAVE A REPLY