नवीन कुमार /नई दिल्ली :-आज इनेलो पार्टी ने जलयुद्ध एसवाईएल अभी नहीं तो कभी नहीं संसद घेराव में इतिहास रच दिया जो आज तक कभी नहीं हुआ वो आज दिल्ली की संसद में हुआ संसद के सभी बैरिको को तोड़ते हुए अपनी मांग को बेबाक तरीके से केंद्र सरकार तक पहुचाने की पुरज़ोर कोशिश की किसी तरह से नहीं लगा की सरकार इस मुद्दे की अनदेखी करेगी ही नारा सुनने को मिल रहा था ताऊ देवी लाल अमर रहे ताऊ देवी लाल जिंदाबाद हरियाणा के मसीहा ताऊ देवीलाल अमर रहे ताऊ देवी लाल ने 1 नवम्बर 1966 को इनके अथक प्रयास से हरियाणा प्रदेश बना था और प्रदेश का विकास हुआ लेकिन अफ़सोस आज हरियाणा को पानी के लिए तरसते पचास साल से ज्यादा का समय हो गया है लेकिन हरियाणा प्रदेश के साथ एस वाई एल ना होने से हरियाणा बैक फुट पर ला दिया है तमाम दुसरे राजनीतिक दलों जो किसी भी तरह से जायज नहीं ठहराया जा सकता है जलयुध संधि
दर्जनों इनेलो कार्यकर्ता घायल पुलिस ने महिलाओं व बुजुर्गों को भी नहीं बख्शा पुलिस ने बिना चेतावनी किया लाठीचार्ज पुलिस घेरे तोड़ते हुए इनेलो कार्यकर्ता संसद भवन के पास पहुंचे
सर्वोच्च न्यायालय के फैसले अनुसार एसवाईएल का निर्माण तुरंत करवाने की मांग कर रहे थे इनेलो कार्यकर्ता
संसद घेराव से पहले इनेलो ने किया अभय चौटाला व अशोक अरोड़ा के नेतृत्व में जंतर-मंतर पर विशाल प्रदर्शन
पुलिस ने गाडिय़ों से निकालकर भी पीटा मारी लाठियां
एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने की मांग को लेकर इनेलो कार्यकर्ताओं ने आज जंतर-मंतर पर विशाल प्रदर्शन किया और शांतिपूर्वक तरीके से संसद का घेराव करने जा रहे इनेलो कार्यकर्ताओं पर संसद भवन से चंद कदम की दूरी पर दिल्ली पुलिस ने बिना कोई पूर्व चेतावनी दिए बर्बरतापूर्ण व बेरहमी से भारी लाठीचार्ज किया। लाठीचार्ज से दर्जनों इनेलो कार्यकर्ता घायल हो गए। पुलिस ने महिलाओं और बुजुर्गों को भी नहीं बख्शा और गाडिय़ों में बैठे बुजुर्ग इनेलो कार्यकर्ताओं को गाडिय़ों से निकालकर उनके सिर पर लाठियां बरसाई गई जिससे अनेक कार्यकर्ताओं को गम्भीर चोटें आई। सर्वोच्च न्यायालय का फैसला लागू करवाए जाने और एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाए जाने की मांग को लेकर भारी संख्या में इनेलो कार्यकर्ताओं ने आज जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया और प्रदर्शन के बाद जैसे ही इनेलो कार्यकर्ता प्रधानमंत्री को ज्ञापन देने के लिए संसद की ओर कूच कर रहे थे तो बैरीकेट्स लांघते ही दिल्ली पुलिस ने मात्र संसद भवन से चंद कदम की दूरी पर इनेलो कार्यकर्ताओं को चारों तरफ से घेरकर लाठीचार्ज शुरू कर दिया।
जंतर-मंतर पर प्रदर्शन का नेतृत्व नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने किया। प्रदर्शन में हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत दिग्विजय सिंह चौटाला परमेंद्र ढुल सुभाष गोयल पिरथी सिंह नम्बरदार जाकिर हुसैन वेद नारंग प्रो. रविंद्र बलियाला बलवान दौलतपुरिया रणवीर गंगवा अनूप धानक पूर्व स्पीकर सतबीर सिंह कादियान तेलू राम जोगी मक्खन लाल सिंगला राजदीप फोगाट बलकौर सिंह जगदीश नैयर शीला भ्यान हरि सिंह राणा दिनेश डागर पदम सिंह दहिया रामकुमार सैनी रमेश खटक रवि चौटाला, एनएस मल्हान सतीश नांदल, प्रदीप देशवाल सहित पार्टी के सभी विधायक, सांसद, पूर्व विधायक व सभी वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद थे।
इससे पहले जंतर-मंतर पर प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय की संवैधानिक पीठ का फैसला आए हुए चार महीने से ज्यादा समय हो गया है और अभी तक केंद्र सरकार ने नहर के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आते ही सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री से कहा था कि वे इसे लागू करवाने के लिए सभी दलों को साथ लेकर प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति के समक्ष प्रदेश का पक्ष रखें ताकि हरियाणा की जीवनरेखा एसवाईएल का निर्माण हो सके। इनेलो नेता ने कहा कि राष्ट्रपति से तो सभी दलों के नेता मिलकर प्रदेश का पक्ष उनके समक्ष रख आए थे लेकिन प्रधानमंत्री ने पिछले चार महीने से हरियाणा के सीएम को मिलने का समय ही नहीं दिया। इनेलो नेता ने कहा कि कांग्रेस के साथ-साथ भाजपा भी इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है और पंजाब चुनाव में राजनीतिक फायदा लेने के लिए इस मामले को जानबूझकर लटकाया गया।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जननायक चौधरी देवीलाल के अथक प्रयासों से हरियाणा अलग राज्य के रूप में अस्तित्व में आया और आज हरियाणा किसी से खैरात नहीं बल्कि बंटवारे में उसे जो अपने हिस्से का रावी-व्यास से पानी मिला था उसे प्रदेश में लाने के लिए एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने की मांग कर रहा है। उन्होंने कहा कि स्व. जननायक ने उस समय हिंदी क्षेत्र की अनदेखी के खिलाफ विधानसभा के अंदर व बाहर मजबूती से लड़ाई लड़ी और हरियाणा 50 साल पहले अलग राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। उन्होंने कहा कि हरियाणा चौधरी देवीलाल के सपने अनुसार देश का अग्रणी राज्य बने, इसके लिए इनेलो एसवाईएल पर लम्बी लड़ाई लडऩे के लिए पूरी तरह तैयार है। इनेलो नेताओं ने कहा कि हमने पहले ही घोषणा की थी कि अगर केंद्र ने 23 फरवरी तक नहर का निर्माण कार्य शुरू न करवाया तो पार्टी कार्यकर्ता कस्सियां लेकर खुद नहर की खुदाई करने जाएंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने नहर निर्माण के लिए न सिर्फ गिरफ्तारियां दी बल्कि विस के अंदर भी इस मुद्दे पर मजबूती से पार्टी का पक्ष रखा है। इनेलो नेता ने कहा कि उनकी पार्टी ने नहर खुदाई व संसद घेराव के लिए प्रदेश हित में सभी दलों को न्यौता भी दिया था लेकिन अन्य दलों ने मात्र इस मुद्दे पर राजनीति करते हुए इसे लटकाने का ही काम किया है। उन्होंने कहा कि जब तक एसवाईएल के अधूरे निर्माण को पूरा करवाने के लिए काम शुरू नहीं हो जाता तब तक इनेलो अपना संघर्ष जारी रखेगी और पार्टी इसके लिए बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने से भी पीछे नहीं हटेगी

LEAVE A REPLY