images2

मऊगंज । पानी के लिए  तरस रहे पहाड़ी भोलाराम  के ग्रामीण ।

 

रीवा जिला के मऊगंज तहसील के ग्राम पंचायत गोदरी अम्बिका राम के अंतर्गत ग्राम पहाड़ी में इन दिनों भारी जल संकट का ग्रामीण सामना कर रहे है.

 

बता दे की इस गाँव की आबादी 1500 से अधिक है

और ये पूरा इलाका में ज्यादा हरिजन वर्ग के लोग निवास करते है।  लेकिन इतनी आबादी होने के बाद भी पीने के पानी की उचित ब्यवस्था नही होने से इन दिनों गाँव वालो एवं मवेसियो को पानी नही मिल रहा है ।

 

वही इस गाँव में स्वच्छ भारत अभियान के तहत सोचालय का निर्माण किया जा रहा है ।

और जो सोचालय बन भी गए है ओ पानी के आभाव में बन्द पड़े है ।

 

जब इस बारे  गाँव के निवासी गणपत से पूछा गया की आप लोग सोचालय का उपयोग क्यों नही करते है बनने के बाद भी …तो गणपत ने जबाब दिया की इस गाँव में पीने के लिए तो पानी नही मिल रहा है सोचालय में कन्हा से डालेगे… ।जल संकट के कारण सोचालय का उपयोग नही कर रहे है ।

 

तो सवाल यह उठता है की जब गाँव में पानी ही नही है तो सरकार इतना रुपये वेस्ट क्यों कर रही है ।

 

सुनामी मीडिया टीम ने इस गाँव के  पूर्व सरपंच प्रत्यासी देवदत्त तिवारी जी से बात की श्री तिवारी ने  मीडिया बात करते हुए बताया इस…. गर्मी में गाँव में भारी जल संकट है और दिन प्रति दिन यह बढ़ता जा रहा है ।….

और सरकारी अधिकारी कोई ध्यान नही दे रहे सुचना के बाद भी । उन्होंने ने यह भी बताया की इस गाँव में केवल एक हैंड पम्प है और इसी पर पूरा गाँव आश्रित है डर लगा रहता है की अगर कहि नल खराब हो गया तो पानी पीने के लिए नही मिलेगा ।

आपको बता दे की यह इलाका देवतलाब के लोकप्रिय विद्यायक गिरिस गौतम जी के क्षेत्र् में आता है

लेकिन लोगो को आज भी भरोसा है की गौतम जी दयालू प्रकित के है हो सकता है ।

कभी ध्यान दे ।

 

वही देश सबसे अधिक विकास का दवा करने वाली शिवराज सरकार के राज में इस गाँव के लोग आज भी पानी के लिए तरस रहे है ।

चुनाव जितने के बाद न तो कभी कोई मंत्री आया और न ही विधयक ने गांव का हाल जनना चाहा ।

 

 

मुकेश तिवारी

09770767103

सुनामी न्यूimages2ज़ टीवी

मऊगंज, रीवा मप्र

LEAVE A REPLY