सावरमती की तर्ज पर कुल्लू की सरवरी नदी का होगा सौंदर्यकरण-
फै्रंडज ऑफ रिवर के सेमिनार में खाका किया तैयार-
प्रेस क्लब के साथ 15 संस्थाओं ने ली हिमालय की नदियों को साफ सुथरा रखने की शपथ-
सुनामी ब्यूरो राजीव-
प्रदूषण व गंदगी से जहर बनती जा रही हिमालय की नदियां अब फिर से गंगाजल की तरह पवित्र होने जा रही हैं। फैं्रडज ऑफ रिवर के सेमिनार में हिमालय क्षेत्र की 15 समाजिक एवं पर्यावरण से संबंधित संस्थाओं ने शपथ ली है कि वे प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू की इस मुहिम को पूरे हिमालय क्षेत्र में सार्थक बनाएंगे। हर संस्था ने अपने-अपने क्षेत्र की नदियों के संरक्षण व संबंर्धन के लिए  रणनीति तैयार कर दी है। प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू के सौजन्य से फ्रैंडज ऑफ रिवर के सेमिनार का आयोजन डीआरडीए भवन कुल्लू में हुआ। इस सेमिनार में नगर परिषद कुल्लू के सभी पार्षदों सहित 15 संस्थाओं ने भाग लिया जिसमें कुल्लू ट्राउट कंजरवेशन, रोटरी क्लब कुल्लू, नेहरू युवा केंद्र, नगर पालिका, सेवक संस्था, यत्न संस्था, कारसेवादल कुल्लू, क्रिश्चियन नर्सिंग संस्थान, अवन्ता फाउंडेशन, हिमालयन एनवायरमेंट, व्यापार मंडल, एचआरटीसी चालक परिचालक संघ, आशा क्लब रामा सामुदायिक, झांसी गु्रप, शीतला माता संस्था, निरंकारी मिशन कुल्लू सहित कई संस्थाएं शामिल थी। इस सेमिनार में निर्णय लिया गया कि प्रेस क्लब कुल्लू द्वारा गोद ली गई सरवरी नदी का गुजरात की सावरमती रिवर फ्रंट की तर्ज पर सौंदर्यकरण किया जाएगा। इस अवसर पर पार्षद तरूण विमल ने सुझाव दिया कि सरवरी नदी कुल्लू शहर की जीवनदायिनी है और इस नदी का सौंदर्यकरण, तटीयकरण व स्वच्छ जल रखना जरूरी है। सेमिनार में नप के उपाध्यक्ष गोपाल कृष्ण महंत ने प्रेस क्लब की सराहना करते हुए बताया कि इस नदी के तटीयकरण का मास्टर प्लान तैयार है और शीघ्र सरकार से इस प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने की आशा है। इस अवसर पर निर्णय लिया गया कि कुल्लू शहर की सरवरी नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए नगर परिषद कुल्लू द्वारा जगह-जगहर पर शौचालयों का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा भूतनाथ से लेकर शीतला माता मंदिर पुल तक सरवरी नदी को पहले चरण में पूरी तरह से सौंदर्यकरण से जोड़ा जाएगा। वहीं, यह भी निर्णय लिया गया कि सरवरी नदी में कोई भी कूड़ा-कर्कट डालते हुए पकड़ा गया तो उसे मौके पर ही 500 रूपए का जुर्माना डाला जाएगा। इसके अलावा जो भी दुकानदार नदी में गंदगी डालता है तो उन पर भी शिकंजा कसा जाएगा। इस अवसर पर यह भी निर्णय लिया गया कि पश्चिमी हिमालय की नदियों के बचाव के लिए हर गांव में जाकर वहां की संस्थाओं को प्रेस क्लब के साथ जोड़ा जाएगा और उन्हें नदियों के संरक्षण के लिए जागरूक किया जाएगा यही नहीं सभी संस्थाओं को नदियों की साफ सफाई के लिए तैयार किया जाएगा और उन्हें यह जिम्मा सौंपा जाएगा। कार्यक्रम के मुख्यातिथि प्रसिद्ध पर्यावरणविद् बुध राम शर्मा रहे जबकि विशेष अतिथि के रूप में नगर परिषद के उपाध्यक्ष गोपाल कृष्ण महंत सहित तमाम पार्षद रहे। कार्यक्रम का संचालन प्रेस क्लब के फाउंडर महासचिव डॉ. पीडी लाल और प्रधान धनेश गौतम द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY