विधानसभा अध्यक्ष एवं मंत्रियों ने बस दुर्घटना पर जताया शोक
कांगड़ा जिला प्रशासन ने फौरी राहत के तौर पर दिए 25-25 हजार

धर्मशाला, 15 जून: विधानसभा अध्यक्ष बीबीएल बुटेल, परिवहन मंत्री जी.एस. बाली, कृषि मंत्री सुजान सिंह पठानिया, शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा, मुख्य संसदीय सचिव नीरज भारती और जगजीवन पाल ने काँगड़ा के ढलियारा में श्रद्धालुओं से भरी एक निजी बस खाई में गिरने के भीषण हादसे पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने हादसे में 10 लोगों के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए दुखी परिजनों के प्रति संवेदना जताई है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।
जिला मुख्यालय में प्राप्त सूचना के अनुसार आज प्रातः करीब 10ः30 बजे हुई इस दुर्घटना में 10 लोगों की मृत्यु हो गयी थी, जबकि लगभग 50 अन्य के घायल होने का समाचार है। मृतकों में दो महिलाएं भी हैं। 
मामूली रूप से घायल 13 लोगों को सिविल अस्पताल देहरा में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। जबकि अन्य घायल 38 लोगों को टांडा मेडिकल काॅलेज भेजा गया है।
प्राप्त सूचना के अनुसार पंजाब नम्बर वाली इस बस में अमृतसर के करीब 80 यात्री सवार थे। ये सभी यात्री सुबह माता चिंतपूर्णी मंदिर में माथा टेकने के उपरांत माता ज्वालाजी मंदिर दर्शन के लिए आ रहे थे तथा रास्ते में ढलियारा के समीप बस दुर्घटना का शिकार हो गई। 

दुर्घटना की सूचना मिलते ही उपायुक्त सीपी वर्मा और पुलिस अधीक्षक संजीव गांधी ने घटनास्थल पर जाकर राहत एवं बचाव कार्यों का जायजा लिया और पीड़ितांे को हर संभव मदद के निर्देश दिए।
जिलाधीश कांगड़ा सीपी वर्मा ने बताया कि जिला प्रशासन ने फौरी राहत के तौर पर मृतकों के निकट परिजनों को तत्काल 25-25 हजार रूपये और गंभीर रूप से घायलों को 10-10 हजार रूपये राहत राशि प्रदान की है। 
उन्हांेने कहा कि जिला प्रशासन ने दुघर्टना में सुरक्षित लोगों के ठहरने और खाने-पीने की समुचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की है तथा उनके वापिस लौटने के भी समुचित प्रबंध किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन मृतकों के शवों को उनके पैतृक स्थान पर ले जाने के भी प्रबंध कर रहा है।

LEAVE A REPLY