अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव 30 सितंबर से 6 अक्तूबर तक-
उपायुक्त ने की अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव समिति की बैठक की अध्यक्षता-
सुनामी टाईम्स ब्यूरो राजीव)-
अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव समिति की बैठक वीरवार को बचत भवन में समिति के अध्यक्ष एवं उपायुक्त यूनुस की अध्यक्षता में हुई। इसमें दशहरा उत्सव के सभी प्रबंधों, विभिन्न गतिविधियों और अन्य महत्वपूर्ण मुददों पर विस्तार से चर्चा की गई। उपायुक्त ने बताया कि इस वर्ष दशहरा उत्सव 30 सितंबर से छह अक्तूबर तक मनाया जाएगा। उत्सव की सभी तैयारियों के लिए उप समितियों के गठन की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है और ये उप समितियां तत्काल प्रभाव से कार्यशील हो जाएंगी। इन उप समितियों द्वारा अपने-अपनेे स्तर पर की गई तैयारियों की समीक्षा अगली बैठक में की जाएगी। उपायुक्त ने बताया कि इस वर्ष प्लाट आवंटन प्रक्रिया उत्सव से पंद्रह दिन पहले ही आरंभ कर दी जाएगी, ताकि व्यापारी अपनी दुकानें तीस सितंबर तक लगा सकें। प्लाट आवंटन के लिए गठित उप समिति के अध्यक्ष एडीसी होंगे। एक व्यक्ति को दो से अधिक प्लाट नहीं दिए जाएंगे। सभी व्यापारियों व रेहड़ी-फड़ी वालों के पहचान पत्र बनाए जाएंगे। सभी सुरक्षा मानकों की समीक्षा के बाद ही डोम और झूलों आवंटन किया जाएगा। उपायुक्त ने बताया कि इस अंतर्राष्ट्रीय उत्सव में देश-विदेश के सांस्कृतिक दलों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद, उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र पटियाला और सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्री कार्यालयों से पत्राचार पहले ही आरंभ कर दिया गया है। उत्सव की सांस्कृतिक संध्याओं में स्थानीय लोक कलाकारों को भी पर्याप्त समय दिया जाएगा। हर वर्ष की तरह दशहरे के दौरान ही ग्रामीण खेल उत्सव भी आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि देवी-देवताओं के साथ आने वाले देवलुओं को पेयजल, बिजली, खाद्य सामग्री, टैंटर्, इंधन और अन्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए सभी संबंधित विभागों को निर्देश दे दिए गए हैं। उत्सव के दौरान दूरदराज इलाकों के लिए अतिरिक्त बसें चलाई जाएंगी और ये बसें रात के 11 बजे तक चलाई जाएंगी। उपायुक्त ने बताया कि कानून व्यवस्था व यातायात व्यवस्था सुचारू बनाए रखने और कड़ी निगरानी के लिए अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए जाएंगे। एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि उत्सव के दौरान रिजर्व बटालियन के अधिकारियों व जवानों के अलावा 500 से अधिक होमगार्डों की तैनाती की जाएगी। बैठक में एडीसी राकेश शर्मा ने विस्तृत ब्यौरा पेश किया। इस मौके पर विधायक महेश्वर सिंह, गोविंद सिंह ठाकुर, पूर्व मंत्री सत्य प्रकाश ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस महासचिव सुंदर सिंह ठाकुर, नगर परिषद के उपाध्यक्ष गोपाल कृष्ण महंत, जिला कारदार संघ के अध्यक्ष दोत राम ठाकुर, अन्य गैर सरकारी सदस्यों और विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भी महत्वपूर्ण सुझाव रखे।
शहीदों का सम्मान और नशा उन्मूलन का संदेश-
अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव समिति इस वर्ष हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों और पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर और चंडीगढ़ के दो-दो शहीदों के परिजनों का सम्मानित करेगी। इसके अलावा नशा विरोधी मुहिम के अंतर्गत नशा भगाओ-देश बचाओ कार्यक्रम भी आयोजित करेगी। उत्सव के दौरान स्वच्छता पर भी विशेष फोकस रहेगा। इस दिशा में कुछ नए प्रयास किए जाएंगे। कूड़ा एकत्रीकरण और निष्पादन के लिए विशेष प्रबंध किए जाएंगे। मेला स्थल पर पर्याप्त संख्या में मोबाइल शौचालय भी स्थापित किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY