*मस्तूरी क्षेत्र के अधिकांश सड़कों की हालत जर्जर, छात्रों को हो रही परेशानी*
——————————–
बिलासपुर । मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के खम्हरिया ग्रामीण क्षेत्र के खम्हरिया से सोठी जेवरा, खम्हरिया से मडंई बिठकुला निरतू ,खम्हरिया से उनी,कुली से कुकदा उडांगी बसहा जाने वाले रास्ता विगत कई वर्षो से जर्जर पड़ा हुआ है इससे लोगों को आने जाने मे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है सड़क मे जगह-जगह भारी भरकम गड्ढे हो गए हैं वहीं विभाग कुभंकरणीय नींद में सो रहा है क्षेत्र की अधिकांश सड़कें जिन्हें बने हुए मात्र 3-4साल हुआ है वे खराब होकर उखड़ गई है सबसे ज्यादा स्थिति खराब पीएमजीएसवाई तथा पीडब्ल्यूडी के द्वारा बनाई गई सड़कों की हैं प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत खम्हरिया से मडंई बिठकुला निरतू 7 किमी की सड़क का निर्माण10 वर्ष किया गया था न तो उक्त सड़क कि देखरेख की गई और न ही सुधार कार्य करवाया गया है सड़क मेनटेनेंस न रखने की दशा मे मार्ग जर्जर हो गया सड़कों के बीच व किनारे मे चलने लायेक भी नहीं पुरा सड़कों मे गड्ढे बन गए हैं मस्तूरी विकासखण्ड के खम्हरिया से सोठी,जेवरा कनई खोदंरा प्रधानमंत्री सड़क का निर्माण होते ही दो-तीन वर्षो के भीतर यह रोड़ नेस्तनाबूद हो गई अब सड़क पुरी तरह से खराब हो चुका है और चलने लायक भी नहीं रही यहां पर यह बताना लाजमी है कि वही सीपत से बलौदा मार्ग के ग्रामीण अंचल के कई सड़कों पर निर्माण कार्य की अवधि का बोर्ड ही गायब है वहीं खम्हरिया से उनी तक के रोड़ मे कई बडे़-बडे़ गड्ढे हो गए हैं और इसे दुरूस्त करने की चिंता न ठेकेदार को है और न ही विभाग को है बताया जाता है कि यदि यह सड़क क्षतिग्रस्त हो गई है और गांरटी पीरियड मे है ऐसे में पुनः दुरूस्त करने की जिम्मेदारी ठेकेदार की होनी चाहिये अगर मात्र कुछ ही वर्षो मे सड़क क्षतिग्रस्त होने के कारण लोगों को आवागमन मे परेशानी हो रही है
*खम्हरिया क्षेत्र के प्रधानमंत्री ग्राम सड़क का हाल जर्जर हालत में*
विभागीय सूत्रों की माने तो यदि सड़क बनी और उसका मुल्यांकन भी हो गया और यदि कुछ माह में ही रोड़ क्षतिग्रस्त हो जाए तो जिम्मेदार ठेकेदार के खिलाफ तत्काल कार्यवाही होनी चाहिये फिर भी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना विभाग के अधिकारियों की मेहरबानी के कारण कोई उचित कार्यवाही नहीं हो रही हैं क्षेत्र में बनाई गई अधिकाश सड़कें जर्जर हो चुकी हैं जर्जर सड़कों को मेनटेनेंस के नाम पर मात्र लीपापोती कर छोड़ दिया जाता हैं या तो फिर अधिकारियों से मिलीभगत कर मात्र कागजों में ही मरम्मत का कार्य कर दिया जाता हैं अभी हाल ही में कुली से कुकदा, खम्हरिया से मडंई बिठकुला, खम्हरिया से सोठी जेवरा मार्ग में ठेकेदार द्वारा गड्ढों पर बडी़-बडी़ गिट्टी डालकर छोड़ दिया गया है जिससे ग्रामिण

राहगीर व स्कूल कालेज छात्र-छात्राओं को साईकिल मोटर साईकिल चलाना मुश्किल होता है कभी कभी बीच रास्ते में पचंर होने से काफी कठनाइयों का सामना करना पड़ता है

LEAVE A REPLY