कौशाम्बी/उत्तर प्रदेश में गबन और भृस्टाचार पर रोक नही लग रही है साथ ही पिछली सरकार पर किये ग15175579927561515760104ए गबन पर से भी पर्दा नही उठा पा रहे है अधिकारी

जिले की ग्रामसभा-शहजातपुर के निवासी गंगा प्रसाद शुक्ल जो शिक्षा विभाग के सेवानिवृत्त कर्मचारी पेन्सन भोगी है।
के नाम पर और उनके सुपुत्र के भी नाम पर शौचालय पास करवाकर व् बिना निर्माण ही पैसा निकाल लिया गया
शुक्ला ने शपथपत्र जिला अधिकारी को प्रेषित करते हुए कि मेरे द्वारा शौचालय पाने हेतु कभी कोई आवेदन नही दिया गया साथ ही न मैं किसी प्रकार से पात्र हु।
और जब मुझे जानकारी हुयी की मेरे और मेरे पुत्र के नाम पर ग्राम प्रधान और कर्मचारियों ने मिलकर गबन किया है तो एक सभ्य नागरिक होने के नाते मैं इस भृस्टाचार से पर्दा उठाना चाहता हूँ
ग्राम सभा में तमाम अनिमित्ताए है
इसलिए मुझे
शपथपत्र के माध्यम से जिला अधिकारी को मामले से अवगत कराना पड़ रहा है।
स्वच्छ भारत मिशन की वेबसाइट से हुआ खुलासा -:-
वेबसाइट और अपने नाम पर शौचालय का निर्माण देख कर शुक्ला हक्क बक्का रह गए
सबसे बड़ी बात है कि जब शौचालय बना ही नही यो तस्वीर किसकी और किसने बनायी

पहले भी ग्रामसभा के लोग लगा चुके है गम्भीर आरोप
लगभग एक महीने पहले ग्रामसभा के दर्जन भर लोगो ने
ग्राम प्रधान के खिलाफ शपथपत्र दाखिल किया था जिसपर किसी प्रकार ही जाँच या कार्यवाही नही दिखाई दे रही है।

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि के अनुसार मेरे द्वारा किसी भी प्रकार का कोई गबन नही किया गया है।
मसले की जाँच हो जाये हमे कोई गुरेज नही है मेरे खिलाफ साजिश की जा रही है।

जब ग्राम प्रधान इतने अस्वस्थ्य है और ग्रामीण भी शपथपत्र दे रहे है
ऐसी स्थिति में घालमेल से इंकार नही किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY