उत्तर प्रदेश/कौशाम्बी-
योगी सरकार जहाँ इनदिनों गुंडों पर लगाम लगाने के बड़े बड़े दावे कर रही है वही दूसरी ओर उनके उपमुख्यमंत्री के ही जिले में भाजपा नेता और डिप्टी सीएम के करीबी माने जाने वाले जिला पंचायत सदस्य साजन मौर्या ने वर्दी वालो की वर्दी फाड़ दी और उनके साथ मारपीट भी की
मामला सदर की एक चौकी टेवा का है जहाँ रविवार की रात जिला पंचायत सदस्य और उनके भाइयों ने यह कारनामा किया
दलित दरोगा ने बताया कि उनके साथ अभद्रता की गयी और गाली भी दी गयी
क्या है मामला

टेवा चौकी प्रभारी रामजीत सरोज को एसपी प्रदीप गुप्ता ने टेवा निवासी राजकुमार की संदिग्ध हालात में मौत की जांच सौंपी थी। रविवार को चौकी प्रभारी ने आरोपित कामता प्रसाद को पूछताछ के लिए बुलाया था। भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री व जिला पंचायत सदस्य साजन मौर्य कामता प्रसाद की ओर से पैरवी कर रहे थे। कामता को चौकी बुलाने पर नाराज साजन मौर्य चौकी पहुंचे और दरोगा से अभद्रता शुरू कर दी। चौकी प्रभारी ने समझाने का प्रयास किया तो उसको पीटना शुरू कर दिया। मारपीट में दरोगा का वायरलेस सेट टूट गया। इतना ही नहीं दरोगा की वर्दी भी फाड़ दी गई। इसके बाद भाजपा नेता के समर्थकों ने जमकर हंगामा भी किया। इस घटना से भाजपा की प्रदेशभर में किरकिरी होने लगी। उसने इस प्रकरण से पल्ला झाड़ते हुए आरोपित साजन मौर्य को पार्टी से निकाल दिया है। जिलाध्यक्ष रमेश पासी ने सोमवार को बताया कि साजन को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है।

चौकी में घुसकर प्रभारी को पीटने, उसका वायरलेस सेट तोड़ने और वर्दी फाड़ने के आरोपित भाजपा नेता को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। वह जिला पंचायत सदस्य है। पुलिस अब उसकी तलाश में जुटी है

LEAVE A REPLY