मामला अवैध निर्माण व् शासन प्रशासन की बेरूखी का

कौशाम्बी
शासन के लाख दावों की अवैध कब्जे व् निर्माण की पोल खोलने के लिये इतना काफी है किएक अदना सा भाजपा कार्यकर्ता कई बार तालाब ओर अवैध कब्जे को लेकर जिला प्रशासन से लेकर प्रदेश सरकार से गुहार लगाता रहा लेकिन तालाब से कब्ज़ा हटाना तो दूर उसकी कही सुनाई न होने से आहत कार्यकर्ता 10 अप्रैल से भूख हड़ताल पर बैठने वाला है।

मामला तब और भी गंभीर हो जाता है कि कद्दावर नेताओं व् प्रशासन ने कौशाम्बी महोत्सव मना कर प्रदेश में अपनी वाह वाही बटोरना चाहते है लेकिन अपने ही कार्यकर्ता से ये कैसी बेरुखी। मिली जानकारी के अनुसार सैनी निवासी कृष्ण कुमार उर्फ रिंकू ने पुराने पक्के तालाब पर अवैध निर्माण को लेकर कई बार शासन प्रशासन से शिकायत की लेकिन हर बार प्रशासन की बेरुखी का सामान करना पड़ा बार-बार शिकायती पत्र देने के बाद जब उसकी कही सुनवाई न होने पर रिंकू तब भूख हड़ताल पर बैठ रहा है जब भाजपाई कुशाम्बी महोत्सव मना कर अपनी उपलब्धियों गिनाने में लगे है।

LEAVE A REPLY