केद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिला में ही स्वास्थ्य सुविधाओ का यह हाल !! स्वारघाट में चिकित्सक नही !!

 

*विनोद चड्ढा कुठेड़ा*

 

केद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा के गृह जिला में ही स्वास्थ्य सुविधाए पूरी तरह से चरमरा गई है। यदि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिला में ही स्वास्थ्य सुविधाओ का यह हाल है तो अन्य जगह पर केद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा की सुविधाओं का क्या हाल होगा इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है ! हिमाचल के मुख्य द्वार स्वारघाट में डॉक्टर न होने के चलते मरीजो

को परेशानी का सामना करना पड़ रहा।

 

अस्पताल में एक नर्स व एक फॉर्मेटिस्ट 24 घण्टे कार्यभार सम्भाले है यह स्वास्थ्य केंद्र राष्ट्रीय उच्च मार्ग चण्डीग़ढ़ मनाली के साथ जुड़ा है। आये दिन इस मार्ग पर दुर्घटनाएं होती रहती है। घायल अवस्था में मरीजो को इसी हस्पताल में लाया जाता है लेकिन डॉक्टर न होने के चलते गम्भीर स्थिति में घायल मरीजो को चण्डीग़ढ़ 95km बिलासपुर 45km नालागढ35km व अन्य हस्पतालों में रैफर कर दिया जाता है यहाँ पर ट्रामा सेंटर भी है जिस का  उद्धघाटन  हुए एक वर्ष से ज्यादा  समय हो गया है लेकिन उस में भी किसी डॉक्टर की न्युक्ति नही हुई है जिस पर ताला जड़ा है।

 

इस अस्पताल में जिला सोलन व जिला बिलासपुर की विभिन्न पचायतो के मरीज इलाज करवाने के लिए आते है। यहाँ पर डॉक्टर डपोटेशन पर भेजे जाते है यहाँ के स्थानीय लोगों में नासिरदिन,नजमा वेगम,रेखा देवी,उषा देवी,प्रकाश चन्द,सुमन कुमार,गुड्डू राम,स्यामलाल,जतिन शर्मा,सुनीता देवी,कमला देवी,रामचन्द,निर्मला देवी,सरला देवी,उषा देवी,बगो देवी,कामना देवी ,मेहरदीन ने प्रशाशन व सरकार से मांग की है की रिक्त पदों को जल्द भरा जाये

LEAVE A REPLY