वीरभद्र बोले !! पार्टी कार्यालय में मनानीत हो रहे सदस्य ! लोकतंत्र है ही नहीं !!img-20180615-wa0053

 

*विनोद चड्ढा बिलासपुर*

 

कांग्रेस संगठन में ऊपर से लेकर नीचे तक चापलूस भरे पड़े हैं। संगठन में ऐसे लोगों को शामिल किया जा रहा है, जिनका कांग्रेस विचारधारा से दूर-दूर तक नाता नहीं है। यह आरोप पूर्व मुख्यमंत्री एवं अर्की के विधायक वीरभद्र सिंह ने कार्यकर्ताओं की बैठक में लगाए। उन्होंने  कहा कि कांग्रेस पार्टी में बूथ से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक चुनाव होने चाहिए।

 

उन्होंने पार्टी

के भीतर लोकतंत्र की वकालत करते हुए प्रदेश संगठन को आड़े हाथ लिया और संगठन पर बरसते हुए कहा कि पार्टी कार्यालय में बैठ कर पदाधिकारी मनोनीत किए जा रहे हैं, जबकि संगठन में सभी पदाधिकारी लोकतांत्रिक तरीके से चुन कर आने चाहिए। संगठन की कार्यशैली पर तंज कसते हुए श्री सिंह ने कहा कि आज जीहजूरी करने वालों को पार्टी में पद दिए जा रहे हैं। किसी भी संगठन की उन्नति के लिए लोकतंत्र आवश्यक होता है।

 

विधानसभा चुनावों के दौरान जो सदस्यता की गई थी, उनमें से आधों की सदस्यता रद्दी की टोकरी में फैंक दी गई तथा केवल चापलूसी करने वालों को ही संगठन में जगह दी गई। इससे पहले अर्की पहुंचने पर उन्होंने बाड़ीधार में बाड़ेश्वर मंदिर का शिलान्यास किया। वह अर्की विश्राम गृह में भी रुके, जहां स्थानीय कार्यकर्ताओं ने पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष सतीश कश्यप के नेतृत्व में उनका स्वागत किया। इस अवसर पर रमेश ठाकुर, संजय ठाकुर, डीडी शर्मा, नीलम रघुवंशी, निर्मला देवी, कृष्ण लाल वर्मा, सावित्री गुप्ता, किरपा राम सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

 

वीरभद्र सिंह ने कहा कि वह पार्टी के वफादार सिपाही हैं तथा मरते दम तक कांग्रेस में रहेंगे। वह 25 वर्ष की उम्र में कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर सांसद बने तथा तब से लेकर आज तक पार्टी की सेवा करते आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY