प्रेम अौर भाईचारा है मानवता की पहचान : डॉ के सी धीमानimg-20180624-wa0046 img-20180624-wa0042

 

विनोद चड्ढा

 

निरंकारी सत्संग भवन कुठेड़ा में शनिबार को त्रि मासिक कैम्प का आयोजन किया गया यह कैम्प ब्राँच मुखी सुरेश ठाकुर की अध्यक्षता में किया गया । जिसमें सभी सेवा दल के सदस्यों ने भाग लिया ।सभी सेवा दल के भाई बहनों ने इस दौरान पिटी परेड में भी भाग लिया और इस दौरान सभी महापुरषो ने कई प्रकार की गतिविधियों में भाग लिया ।जिसमे कुस्सी दौड़, गुबारा दौड़, म्यूजिक चेर ,अदि में भाग लिया। उसके बाद कुठेड़ा भबन में

सत्संग के अवसर पर बिलासपुर क्षेत्रीय सयोजक मुखी महात्मा डॉ के सी धीमान  ने  मुख्य वक्ता की भूमिका निभाई । उन्होंने विभिन्न धर्मों के धर्म ग्रंथों से अनेक उदाहरण देकर बड़े ही प्रभावशाली ढंग से समझाया कि युग चाहे कोई भी रहा हो मानवता को दिशा देने के लिए सत्गुरु इस धरती पर आकर मानव को जीवन का असली मकसद समझाने का कार्य करता है। लेकिन मानव गफलत की नींद में सत्गुरु के संदेश को अनसुना कर देता है जिस वजह से इस जीवन रूपी बहुमूल्य उपहार को यूं ही जाया कर बैठता है। केवल सत्गुरु ही मानव को इस संसार के कण कण में  ईश्वर के दर्शन करने वाला ग्यान देकर उसे मानवमात्र की सेवा की शिक्षा देता है। इस मौके पर स्थानीय ब्रांच के सेवादल ने कैंप का आयोजन भी किया तथा मानव सेवा के संकल्प को पूर्ण करने के लिए सत्गुरु के आशीर्वाद की कामना भी की। इस दौरान सभी महापुरषो  अपने विचार सांझा किए ।

LEAVE A REPLY