तलाकशुदा की मांग में भर गया सिंदूर, विधुर को मिल गई जीवन संगिनी…

 

 

बिटिया फाऊंडेशन की प्रदेश अध्यक्ष ने लोगो के सामने इस शादी को करवा कर की नई मिसाल पेश

 

*विनोद चड्ढा कुठेड़ा*

 

हिमाचल प्रदेश बिटिया फाऊंडेशन की प्रदेश अध्यक्षा सीमा सांख्यान ने बिलासपुर में एक विधुर व तलाकशुदा की शादी करवा कर मिसाल पेश की है। सीमा सांख्यान  ने बिलासपुर जिला की तलाकशुदा लड़की सुनीता (36) व जमथल हरनोडा  के  विधुर रत्न लाल (39) की शादी करवा उन्हें नवजीवन शुरू करने में मदद की है।

 

सीमा सांख्यान ने बताया कि बेटियाँ समाज में सर उठा कर चल सके व उनको पूरे अधिकार मिले इसके लिए बिटिया फाऊंडेशन हमेशा से काम करती रही है। यह शादी भी इसी पहल का परिणाम है। उन्होंने बताया कि यह शादी पूरे हिंदू-रिवाज़ के अनुसार की गई है। विवाह की पूरी रस्में बिलासपुर के मंदिर में पंडित व गवाह की मौजूदगी में पूरी हुई हैं।

उन्होंने बताया कि शादी को पंचायत में दर्ज करवाने के लिए भी सभी औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं, ताकि पति -पत्नी को किसी तरह की परेशानी न हो, क्योंकि महिलाओं को हमेशा समाज के बनाए नियमों का शिकार होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि फाउंडेशन हमेशा ही एेसी महिलाओं की सहायता करती आई है।और ना जाने आज तक इस संस्था ने कितने घरों को उजड़ने से बचाया है।सीमा सांख्यान ने बताया कि  अब हिमाचल में ही नही बल्कि यह संस्था जल्दी ही उत्तरांचल को पंजाब में भी अपनी पहचान बनाने जा रही है जिसके लिए जल्दी ही नई कार्यकारणी घोषित की जायेगी और वहाँ पर अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की  जल्दी ही न्युक्ति की जायेगी। इस संस्था का मुख्य उद्देश्य बेटियो और असहाय लोगो की मदत करना ही मुख्य उद्देश्य है। सीमा सांख्यान ने कहा कि बेटी बचाओ ,बेटी बढ़ाओ की कहाबत केबल किताबो तक तक ही सिमट कर रह गई है आज अगर अपने चारों तरफ नजर उठाये तो सब जगा बेटियो के साथ अन्याय ,घरेलू हिंसा,बलात्कार,और मार पीट के केश दिन प्रतिदिन बढ़ रहे है जिन्हें रोकने का एक ही उपाय है ।हम सब को इस संस्था के साथ मिल कर ऐसे घोर कृत्या करने बाले इंसान को सजा दिलानी होगी ताकि आने बाले पीढ़ी सुरक्षित बच सके ।

LEAVE A REPLY