मां नैना देवी का चमत्कार, महिला को बख्श दी आंखों की रोशनीimg-20180709-wa0116

 

*विनोद चड्ढा कुठेड़ा*

 

बिलासपुर —- :  कहते हैं अगर मन में श्रद्धा और भगवान के प्रति पूरा विश्वास हो तो कठिन से कठिन बीमारी भी ठीक हो जाती है। आप ये भी कह सकते हैं कि चमत्कार को नमस्कार। ऐसा ही कुछ चमत्कार हुआ है होशियारपुर (पंजाब) की रहने वाली महिला ऊषा देवी के साथ। जिसकी आंखों की रसौली माता श्री नैना देवी की कृपा से ठीक हो गई। कहते हैं कि मां नैना देवी श्रद्धालुओं की नैनो को रोशनी बख्शती है और लाखों की संख्या में हर साल श्रद्धालु अपनी आंखों की सलामती के लिए मां के दरबार में चांदी के नेत्र चढ़ाते हैं।

 

बताया जा रहा है कि होशियारपुर निवासी इस महिला की आंखों में रसौली हो गई थी जिसके कारण डॉक्टरों ने कह दिया था कि ऑपरेशन के बाद भी आपकी आंखे पूरी तरह ठीक नहीं होगी या तो आपकी आंखों की रोशनी चली जाएगी या कम हो जाएगी, इससे आपके दिमाग पर भी असर पड़ सकता है। आंखों में कुछ ना कुछ जरूर हो सकता है।   डॉक्टर की एडवाइस के बाद पूरा परिवार टूट गया और उषा देवी के बच्चों और पति महेंद्र ने भी हिम्मत हार दी थी कि अब क्या करें। लेकिन उषा ने हिम्मत नहीं हारी और सभी परिवार के सदस्यों ने इकट्ठे होकर मां नैना देवी से प्रार्थना की कि उनकी आंखों की रोशनी ठीक हो जाए और उसका सफल इलाज हो। इसके लिए उन्हें चांदी के नेत्र  चढ़ाने और पूरे परिवार सहित मां के दरबार आने की मन्नत मांगी।

 

दूसरी तरफ पीजीआई में डॉक्टरों ने ऑपरेशन करने से तो मना कर दिया लेकिन उन्होंने कहा कि इसकी रेडियोथेरेपी की जाएगी। लेकिन इसमें खतरा है और किसी भी समय माता जी की आंखों की रोशनी जा सकती है। लेकिन परिवार को मां नैना देवी पर भरोसा था। उन्होंने रेडियोथेरपी करवाई और इतनी सफल रही कि डॉक्टरों को भी विश्वास नहीं हुआ। आखिरकार इस महिला की आंखों की ज्योति पूरी तरह ठीक हो गई और रसौली भी खत्म हो गई। पूरे परिवार ने मां को नमस्कार किया कि महिला ने अपने परिवार सहित माता के दर्शन किए। साथ ही वहां चांदी के नेत्र चढ़ाए।

LEAVE A REPLY