कौशाम्बी-उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के नाक काम काटने में लगे है उनके अधिकारी कर्मचारी मामला चाहे नोएडा की जिलाधिकारी का हो या फिर कौशाम्बी के विधुत विभाग का ।।गौरतलब है कि जनपद में कुछ दिनों पूर्व तक स्थानीय विधायक संजय गुप्ता कर बिजली विभाग के बीच तलवार खिंच गयी थी
जिसके बाद मामले ने काफी तूल पकड़ा और अंतः अधिकारी ने अपना स्थान्तरण करवा कर मामले से छुट्टी पा ली
भीषण गर्मी की मार झेल रहे प्रदेश वासियों में स्थानीय पत्रकार ने जनपद मुख्यालय में बिजली न सही होने कर आपूर्ति अनावश्यक रोके जाने को लेकर जब सबंधित कार्यालय में जाकर जानकारी लेनी चाही तो बिजली विभाग ने उनके खिलाफ जनपद मुख्यालय में प्राथमिक दर्ज करवा दी जिसके बाद जिले के तमाम पत्रकारों ने इसके विरोध में
जनपद मुख्यालय थाने पर सांकेतिक धरना रखा जिसमे मुख्यतः img-20180712-wa0007 ओमनीष तिवारी(शेषमणि तिवारी),अंजनी कुमार पाण्डेय, अनिरुद्ध पाण्डेय, वेद पांडेय,रामकिशन पटेल,राकेश सोनकर, सहित दर्जनों

 पत्रकार एकत्र रहे और मुकदमे को वापस लिए जाने की मांग करते रहे।
जिसपर जिले के विधायक संजय गुप्ता भी पत्रकार से मिलने पहुंचे और आस्वासन दिया
पत्रकारों के समूह ने बताया कि सांसद विनोद सोनकर,जिले के तीनों विधायकों लाल बहादुर, संजय गुप्ता,शीतला प्रसाद पटेल ने उनसे बात कर धरना त्यागे को कहा साथ ही मामले में हस्तक्षेप की बात भी कही
जिसके बाद पत्रकरो ने धरने को समाप्त किया।

LEAVE A REPLY