कौशाम्बी– जनपद के शहर काजी मौलाना एकबाल अहमद एह्सनी क़िब्ला सहित
नगर मंझनपुर से हज के लिए तीन और लोग रवाना हुए जिनमे
मौलाना एकबाल अहमद, मोहम्मद साबिर एडवोकेट, मोहम्मद सिप्तैन , उनकी पत्नी सहाना बेगम रहे
इस्लाम के सबसे पाक स्थल मक्का और मदीना सऊदी अरबिया में स्थित है जिनका भृमण और वहा ज़ियारत करने को लेकर इस्लाम मे बड़ा जोर दिया गया है।
इस्लाम के जानकरों की माने तो हर मुस्लिम को अपने जीवनकाल में हज यात्रा जरूर करनी चाहिए। जिससे बहुत सा सबाब मिलता है उनकी माने तो हज के लिए रवाना हो रहे लोगो को पूरा समाज बहुत प्यार और लाड़ के साथ विदा करता है।
उसी तर्ज में सौकड़ों लोगो ने माला फूल पहनाकर सभी को विदा किया
भारत मे आज़ादी के बाद से हज यात्रियों को सरकार द्वारा विशेष सुविधाएं भी जाती हो जो अन्य मुस्लिम देशों में मिलने वाली सुविधाओं से बहुत ही बेहतर है।
हज के लिए एक विशेष विभाग का गठन भी आज़ादी पूर्व ही किया गया है जिससे हज यात्रियों को कोई दिक्कत न हो और वो अपनी धार्मिक यात्रा को सुगमता से पूर्ण कर सके।

LEAVE A REPLY