समाज की पहचान युवाओं के चरित्र से होती है- श्री गौरीशंकर अग्रवाल*

विधानसभा अध्यक्ष शामिल हुए कलार समाज की महासभा एवं भूमिपूजन कार्यक्रम में

छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल, लोकसभा सांसद जांजगीर चांपा श्रीमती कमला देवी पाटले और विधायक बिलाईगढ़ एवं उपाध्यक्ष अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण डॉ सनम जांगड़े के आतिथ्य में आज विकासखंड मुख्यालय कसडोल में छत्तीसगढ़ कलार समाज की महासभा एवं भूमि पूजन कार्यक्रम संपन्न हुआ। अतिथियों ने सामाजिक भवन का भूमि पूजन भगवान सहस्त्रबाहु की पूजा-अर्चना कर किया। समाज द्वारा अतिथियों का भव्य स्वागत किया गया और भूमि पूजन स्थल कृषि उपज मंडी से कार्यक्रम स्थल नगर भवन तक खुली जीप में शोभायात्रा निकाली गई। श्री गौरीशंकर अग्रवाल को साफा और तलवार भेंट कर सम्मानित किया गया।
विधानसभा अध्यक्ष ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि जब भी किसी समाज का महासम्मेलन होता है तब समाज को संगठित, मजबूत और शक्ति देने के लिए निर्णय लिए जाते है। उन्होंने महासभा में समाज द्वारा मेधावी छात्रों का सम्मान, बुजुर्गों का सम्मान, खर्चीली शादी रोकथाम के लिए सामूहिक विवाह का आयोजन, निर्धन बीमार व्यक्ति की सहायता और निर्धन मेघावी बच्चों की पढ़ाई की जिम्मेदारी उठाने के निर्णय की सराहना करते हुए कहा कि इसका सम्मान अन्य समाज को भी करना चाहिए। श्री अग्रवाल ने कहा कि समाज द्वारा जो निर्णय लिए गए है वह भगवान सहस्त्रबाहु पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि समाज की पहचान युवाओं के चरित्र और उत्साह से होती है । युवा पीढ़ी को शिक्षा और संस्कार देने के साथ ही देश के प्रति जवाबदेह बनाएं। जायसवाल समाज का गौरवशाली इतिहास रहा है, यह बहादुर कौम है। भगवान सहस्त्रबाहु ने अपने हाथों का उपयोग पीड़ित मानवता की सेवा और रक्षा के लिए किया।
समारोह को लोकसभा सांसद जांजगीर चांपा श्रीमती कमला देवी पाटले और विधायक बिलाईगढ़ एवं उपाध्यक्ष अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण डॉ सनम जांगड़े, कलार समाज के प्रदेश अध्यक्ष श्री विजय जायसवाल, पुरगांव पश्चिमी परिक्षेत्र अध्यक्ष श्री राजकुमार जायसवाल ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अमृत बाई बरिहा, नगर पंचायत अध्यक्ष श्री योगेश बंजारे, उपाध्यक्ष श्री प्रदीप मिश्रा, सदस्य पर्यटन मंडल श्री देवचरण पटेल सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, महासभा के पदाधिकारी, सभी क्षेत्र के अध्यक्ष एवं स्वजातिय बंधु उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY