फतेहपुर जनपद
उत्तर प्रदेश के अति पिछड़े जिलों में से एक है।
जिले में अपराध की घटनाओं का स्तर भी सामान्य से ज्यादा है।
इधर दूसरी ओर जनपद की खागा तहसील के किसुनपुर थाना अंतर्गत तमाम ऐसे गांव है जहाँ सरेआम सैकड़ो लीटर डीज़ल और पेट्रोल की बिक्री बिना किसी लाइसेंस हो रही है सूत्रों के हवाले से-भारी मात्रा में डीजल और पेट्रोल में केरोसिन मिलाकर बेचा जा रहा है।
पेट्रोल पंप के मालिक,सरकारी राशन की दुकान के साथ साथ स्थानीय प्रसासन को भी इस गोरखधंधे से एक ओर जहाँ लाभ हो रहा है वही दूसरी तरफ गांव कभी कभी भीषण दुर्घटना की चपेट में आ सकता है।
भारी मात्रा में विस्फोटक ख़तरनाक ईंधन को रखना कितना खतरनाक जानलेवा है साथ ही कानून अपराध भी है लेकिन
प्रसासन को इससे कोई फर्क नही पड़ता
अर्जुन पुर निवासी एक व्यक्ति के अनुसार उनके गांव में लगभग 200 लीटर पेट्रोल चोरी से बेचा और खरीदा जाता है।
आखिर चंद पैसों के लिए अपने पूरे परिवार के साथ साथ गांव के लोगो की जान को भी खतरे में डालना कहा कि इंसानियत है
वही प्रसासन को इस मामले की जानकारी नही है ऐसा प्रसासन का कहना रहता है
कल कोई दुर्घटना घट जाती है तो जिम्मेदारी किसकी यह सबसे बड़ा सवाल है।

LEAVE A REPLY