SUNAMI NEWS TV BIASPUR_बिलासपुर यूनिवर्सिटी के प्राइवेट प्रवेश फॉर्म का ऑनलाइन नामंकन हुआ प्रारम्भ....

SUNAMI NEWS TV_बागियों और दागियों की सक्रियता ने संगठन की चिंताएं बढ़ाई……

जीतेन्द्र चौबे@बिलासपुर
छत्तीसगढ़ में भाजपा के टिकट बंटवारे से पहले बागियों और दागियों की सक्रियता ने संगठन की चिंताएं बढ़ा दी है। बस्तर से लेकर सरगुजा तक पिछले चुनाव में बागी होकर भाजपा के अधिकृत उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले एक बार फिर ताल ठोंक रहे हैं।
प्रदेश के बड़े नेताओं के संपर्क में बागी और दागी आ रहे हैं। इन नेताओं की वापसी का स्थानीय स्तर पर विरोध हो रहा है। जशपुर में गणेशराम भगत का जूदेव परिवार विरोध कर रहा है। पिछले चुनाव में टिकट नहीं मिलने के बाद गणेशराम भगत बागी हो गये थे। बावजूद इसके जशपुर जिले की तीनों सीट पर भाजपा को जीत मिली है।

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के बेटे का भी विरोध….

सरगुजा में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिव प्रताप सिंह के बेटे विजय प्रताप भी टिकट के दौड़ में हैं। वे सरगुजा की तीन विधानसभा प्रेमनगर, भटगांव और प्रतापपुर से दावेदारी कर रहे हैं। भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो विजय प्रताप के खिलाफ संगठन के सक्रिय नेताओं ने वरिष्ठ नेताओं से शिकायत की है। विजय प्रताप पर जिला पंचायत अध्यक्ष रहते गड़बड़ी का आरोप है। साथ ही पिछले चुनाव में बागी होकर भाजपा उम्मीदवार के खिलाफ लड़ने और विजय प्रताप की जमानत जब्त होने तक की जानकारी दी गई है।

बस्तर के बागी भी ठोंक रहे ताल….

बस्तर में जिला स्तर के एक दर्जन नेता वापसी की फिराक में है और अलग-अलग सीट से दावेदारी कर रहे हैं। स्थानीय नेताओं ने राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री सौदान सिंह और प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक को दागी, बागी को टिकट नहीं देने का प्रस्ताव दिया है। नेताओं का तर्क है कि इससे समर्पित कार्यकर्ताओं की नाराजगी उठानी पड़ सकती है। यही कारण है कि सौदान से लेकर धरमलाल तक नेताओं को यह नसीहत देते नजर आ रहे हैं कि कार्यकर्ताओं की अनदेखी नहीं की जाए।

LEAVE A REPLY