SUNAMI NEWS TV_देवतालाब मे परम्परा गत मनाया गया दशहरा पर्व,

विर्सजित हुई दुर्गा प्रतिमाऐं
——————————————
आकर्षण का केन्द्र रही चैतन्य नौ देवियों की भव्य झांकी
(देवतालाब-नि0प्र0) भगवान भोले नाथ की पावन नगरी देवतालाब में भी गत वर्षो की भाति इस वर्ष भी विजय दशमी पर्व व रावण दहन समारोह पूरे उत्साह व परम्परा के साथ मनाया गया इस अवसर पर दशहरा मैदान मे गत चार वर्षों से आयोजित किया जा रहा भजन संध्या का भव्य कार्यक्रम भी आयोजित किया गया जिसमे विन्ध्य के लोकप्रिय भजन गायक पं0 राजकुमार षास्त्री ने अपने सुमधुर कंण्ठों से उपस्थित श्रोताओ को भजन व गीतो का रसरस्वादन कराया । कार्यक्रम में अतिथि के रुप मे पधारे शिक्षा विद व लोकप्रिय समाज सेवी डा0 सीताशरण तिवारी ने परम्परा के अनुसार भगवान राम,लक्षमण व हनुमान जी सहित वानरी सेना का पूजन कर के रावण दहन का कार्यक्रम सम्पन्न कराया साथ ही अपने उद्बोधन मे श्री तिवारी ने बुराइयों पर अच्छाई के विजय के प्रतीक दशहरा पर्व की षुभकामनाऐं देते हुये समस्त क्षेत्रवासियों के उज्जवल भविष्य की कामना की । कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र के वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र कुसमाकर ने विजय दशमी पर्व के महत्व पर प्रकाश डालते हुये क्षेत्र वासियो को भारतीय परम्परा को संरक्षित करनें कर आवश्यकता पर बल दिया। विजय दशमी समारोह के व्यवस्थापक व देवतालाब के युवा समाज सेवी भगवानदास देवा भारती ने उक्त आयोजन को व्यापक रुप से सफल बनाने के लिये समस्त क्षेत्र वासियों एवं आयोजन के समस्त सहयोगियो भजन गायक राजकुमार शास्त्री व उनकी टीम सहित ग्राम पंचायत देवतालाब का आभार ज्ञापित करते हुये कहा कि र्निवाचन आयोग के र्निदेषों के अनुरुप हमे इस बार अतिसीघ्रता के साथ कार्यक्रम का समापन करना पडत्र रहा है जिससे दर्शकों व श्रोताओं को भरपूर आनन्द नही मिल पा रहा है जिसका हमे खेद है जिसकी भरपाई हम अगले वर्ष करनें का प्रयास करेगें । कार्यक्रम के दौरान युवा समाजसेवी भगवानदास देवा भारती एवं ग्रामपंचायत देवतालाब के सरपंच राजेन्द्र गुप्ता द्वारा विजय दशमी चल समारोह मे सम्मिलित झांकियो एवं आयोजन के सहयोगियों व अतिथि जनों का शाल श्रीफल व स्मृति चिन्ह से सम्मान किया गया। इस अवसर पर प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय देवतालाब द्वारा निकाली गई चैतन्य नौ देवियों की झॉकी जहा एक ओर पूरे नवरात्रि मे देवतालाब क्षेत्र मे आमजन मानस के कौतुहल का विषय रही तो दसवे दिन भी उक्त झांकी चल समारोह मे आकर्षण का प्रमुख केन्द्र रही जिसके कारण जगह-जगह श्रद्धालुओं व स्थानीय लोगों ने उक्त झॉकी को रोक कर चैतन्य नौ देवियों की पूजा अर्चना करते नजर आये। दशहरा उत्सव समिति द्वारा जहॉ उक्त झांकी को विशेष रुप से पुरुष्कृत किया गया वही उक्त चैतन्य नौ देवियों की झॉकी को आमजन मानस के समक्ष प्रर्दशित करने के लिये प्रजापिता ब्रम्हा कुमारी ईश्वरी विश्वविद्यालय देवतालाब की प्रभारी बी0के0 लता बहन एवं झॉकी के श्रंगार व व्यवस्था के लिये बी0के रुपा बहन,बी0के0 खुश्बू बहन का भी सम्मान किया गया साथ ही वरिष्ट पत्रकार सुरेन्द्र कुसमाकर समाजसेवी अखिलेष सिंह,राजकुमार मिश्रा,शिवकुमार शुक्ल,रुद्रमणि पाण्डेय,विनीत सिंह,प्रेम गुप्ता,राजेश शुक्ला,देवतालाब सरपंच राजेन्द्र गुप्ता व कार्यक्रम के व्यवस्थापक देवा भारती का भी सम्मान किया गया। विदित हो कि उक्त समारोह गत वर्षों की भॉति इस वर्ष भी ग्रामपंचायत देवतालाब के सहयोग से आयोजित किया गया जिसमे भगवान दास देवा भारती की भूमिका प्रमुख रही।वतालाब मे परम्परा गत मनाया गया दशहरा पर्व,विर्सजित हुई दुर्गा प्रतिमाऐं
——————————————
आकर्षण का केन्द्र रही चैतन्य नौ देवियों की भव्य झांकी
(देवतालाब-नि0प्र0) भगवान भोले नाथ की पावन नगरी देवतालाब में भी गत वर्षो की भाति इस वर्ष भी विजय दशमी पर्व व रावण दहन समारोह पूरे उत्साह व परम्परा के साथ मनाया गया इस अवसर पर दशहरा मैदान मे गत चार वर्षों से आयोजित किया जा रहा भजन संध्या का भव्य कार्यक्रम भी आयोजित किया गया जिसमे विन्ध्य के लोकप्रिय भजन गायक पं0 राजकुमार षास्त्री ने अपने सुमधुर कंण्ठों से उपस्थित श्रोताओ को भजन व गीतो का रसरस्वादन कराया । कार्यक्रम में अतिथि के रुप मे पधारे शिक्षा विद व लोकप्रिय समाज सेवी डा0 सीताशरण तिवारी ने परम्परा के अनुसार भगवान राम,लक्षमण व हनुमान जी सहित वानरी सेना का पूजन कर के रावण दहन का कार्यक्रम सम्पन्न कराया साथ ही अपने उद्बोधन मे श्री तिवारी ने बुराइयों पर अच्छाई के विजय के प्रतीक दशहरा पर्व की षुभकामनाऐं देते हुये समस्त क्षेत्रवासियों के उज्जवल भविष्य की कामना की । कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र के वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र कुसमाकर ने विजय दशमी पर्व के महत्व पर प्रकाश डालते हुये क्षेत्र वासियो को भारतीय परम्परा को संरक्षित करनें कर आवश्यकता पर बल दिया। विजय दशमी समारोह के व्यवस्थापक व देवतालाब के युवा समाज सेवी भगवानदास देवा भारती ने उक्त आयोजन को व्यापक रुप से सफल बनाने के लिये समस्त क्षेत्र वासियों एवं आयोजन के समस्त सहयोगियो भजन गायक राजकुमार शास्त्री व उनकी टीम सहित ग्राम पंचायत देवतालाब का आभार ज्ञापित करते हुये कहा कि र्निवाचन आयोग के र्निदेषों के अनुरुप हमे इस बार अतिसीघ्रता के साथ कार्यक्रम का समापन करना पडत्र रहा है जिससे दर्शकों व श्रोताओं को भरपूर आनन्द नही मिल पा रहा है जिसका हमे खेद है जिसकी भरपाई हम अगले वर्ष करनें का प्रयास करेगें । कार्यक्रम के दौरान युवा समाजसेवी भगवानदास देवा भारती एवं ग्रामपंचायत देवतालाब के सरपंच राजेन्द्र गुप्ता द्वारा विजय दशमी चल समारोह मे सम्मिलित झांकियो एवं आयोजन के सहयोगियों व अतिथि जनों का शाल श्रीफल व स्मृति चिन्ह से सम्मान किया गया। इस अवसर पर प्रजापिता ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय देवतालाब द्वारा निकाली गई चैतन्य नौ देवियों की झॉकी जहा एक ओर पूरे नवरात्रि मे देवतालाब क्षेत्र मे आमजन मानस के कौतुहल का विषय रही तो दसवे दिन भी उक्त झांकी चल समारोह मे आकर्षण का प्रमुख केन्द्र रही जिसके कारण जगह-जगह श्रद्धालुओं व स्थानीय लोगों ने उक्त झॉकी को रोक कर चैतन्य नौ देवियों की पूजा अर्चना करते नजर आये। दशहरा उत्सव समिति द्वारा जहॉ उक्त झांकी को विशेष रुप से पुरुष्कृत किया गया वही उक्त चैतन्य नौ देवियों की झॉकी को आमजन मानस के समक्ष प्रर्दशित करने के लिये प्रजापिता ब्रम्हा कुमारी ईश्वरी विश्वविद्यालय देवतालाब की प्रभारी बी0के0 लता बहन एवं झॉकी के श्रंगार व व्यवस्था के लिये बी0के रुपा बहन,बी0के0 खुश्बू बहन का भी सम्मान किया गया साथ ही वरिष्ट पत्रकार सुरेन्द्र कुसमाकर समाजसेवी अखिलेष सिंह,राजकुमार मिश्रा,शिवकुमार शुक्ल,रुद्रमणि पाण्डेय,विनीत सिंह,प्रेम गुप्ता,राजेश शुक्ला,देवतालाब सरपंच राजेन्द्र गुप्ता व कार्यक्रम के व्यवस्थापक देवा भारती का भी सम्मान किया गया। विदित हो कि उक्त समारोह गत वर्षों की भॉति इस वर्ष भी ग्रामपंचायत देवतालाब के सहयोग से आयोजित किया गया जिसमे भगवान दास देवा भारती की भूमिका प्रमुख रही।

LEAVE A REPLY