बलौदाबाजार। टिकट नहीं मिलने से बगावती तेवर दिखाते हुए भोजराम अजगले ने बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है और आज भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर अपने समर्थकों के साथ बैठक कर बगावत का ऐलान दिया है।भोजराम अजगले के निर्दलीय चुनाव लड़ने से अब बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र में मुकाबला अभी से चतुष्कोणीय नजर आ रहा है ।

           बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र से सत्ताधारी भाजपा को आज उस समय तगड़ा झटका दे दिया गया जब भाजपा की ओर से टिकट की दावेदारी कर रहे भोजराम अजगले ने भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देकर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया ।बिलाईगढ़ जनपद अध्यक्ष बुगल बाई अजगले के पति भोजराम अजगले का बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र गांवों में काफी मजबूत पकड़ है बतौर ठेकेदार क्षेत्र के गांव गांव में उनकी खासी पहचान है।वे 2008 से बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की टिकट मांग कर रहे हैं लेकिन पार्टी द्वारा उन्हें एक बार भी टिकट नहीं दिया गया ।इस बार के चुनाव में उसे पूरी उम्मीद थी कि पार्टी की टिकट मिल जाएगी क्योंकि वर्तमान विधायक डॉ सनम जांगड़े से भाजपा कार्यकर्ताओं में नाराजगी है लेकिन इस बार भी उन्हें निराशा हाथ लगी और अपने समर्थकों के साथ सलाह मशविरा कर उसने निर्दलीय नामांकन पत्र दाखिल कर दिया।नामांकन वापसी तक उसे पार्टी नेताओं द्वारा मना लिए जाने की अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद सारी अटकलें समाप्त हो गई । क्षेत्र में काफी लोकप्रिय भोजराम अजगले के चुनाव मैदान में उतरने के ऐलान से चुनावी माहौल दिलचस्प हो गया है ।अब बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस ,भाजपा बसपा एवं निर्दलीय प्रत्याशी भोजराम के बीच चतुष्कोणीय मुकाबला हो गया है ।
===.=============================
महल का समर्थन भोजराम को
===========.=====================
  बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र के चुनाव में बिलाईगढ़ राज परिवार हमेशा से भूमिका अहम रही है क्योंकि आदिवासी समाज का नेतृत्व करने वाले बिलाईगढ़ के दीवान का वन क्षेत्र के गांवो में काफी अच्छा प्रभाव है ।राज महल द्वारा स्थानीय नेतृत्व को महत्व देते हुए भोजराम को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है ।आज 4 नवम्बर को जब प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह भाजपा प्रत्याशी के लिए सभा ले रहे थे उसी समय क्षेत्र भर से आए हजारों ग्रामीणों के साथ भोजराम महल प्रांगण में बैठक कर रहे थे ।महल के समर्थन से भोजराम अजगले के समर्थकों को जीत का पूरा भरोसा है ।

LEAVE A REPLY