SUNAMI NEWS TV_क्या बोया था क्या पाया कहे रीवा का किसान संजीत द्विवेदी की रिपोर्ट…

रीवा म.प्र। आज देश मे किसान आवाज उठा रहा है कि तेरह सौ आसी रूपाय वोरी डीएपी किसानो को खरीदी करना पड रहा है और आसी रूपाय डीजल खरीदी करना पडा है और कीटनाशक दबाई पहले से दो गुना दाम पर किसानो को खरीदी करना पड रहा है लेकिन किसानो की मेहनत का सही दाम नही मिल रहा है अखिर क्यो और जब गॉव के किसानो से संम्पर्क किया गया तो किसानो ने कहा कि एक एकड मे खर्चा करने के बाद भी अगर प्नकृति साथ नही दिया तो किसान खेती के साथ साथ सुख गया क्यो कि किसान खेती से ही बच्चो की पढाई घर का खर्चा कपडा सादीऔर अन्य खर्च भी किसान खेती से ही करता है और अब किसान सवाल कर रहा है कि अखिर हर जगहो पर माहगाई के खातिर हरमुकाम पर सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है लेकिन क्या किसानो को माहगाई का बोझ नही सहनी पडती है क्या किसानो को सभी समान छुट मे उपलब्ध कराया जाता है नही आज अपने देश मे किसानो की आवाज गूज उठी है और अब किसान सवाल खडा कर दिय है कि विध्य मे आधिकाश जगहो पर खेती नष्ट हो चुकी है और किसान की जमीन बंजर की तरह पडी हुई है और किसान कह रहा है जो पुराने समय से बीमा की राशि जमा कराई गई है और जो कराई जा रही है तो किसानो को बीमा की राशि का भुगतान कराया जाए अन्था वह बीमा की राशि किस खाते मे जमा कराई गई है और कौन है जिम्मेदार किसान या फिर फुरसत से और कोई आज हरगावो के किसान मुश्किलो से जुझरहे है क्यो उन किसानो से पूछो जिन्होने खेती बोया था लेकिन वह खेती सुख कर नष्ट हो गई है

LEAVE A REPLY