कौशाम्बी के हिन्दू नेता भूले मर्यादा जज के साथ राम और रामचरित मानस का किया अपमान-
उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री राम भक्त केशव प्रसाद मौर्य के ग्रह जनपद के कुछ हिन्दू नेताओ ने हिन्दू महासभा को लेकर बैनर और होर्डिंग्स लगाई है जिसने गलतियों के साथ साथ धार्मिक ग्रन्थ को भी अपमानित किया गया है
अपनी होल्डिंग में सस्ती लोकप्रियता के लिए स्थानीय नेताओं ने रामचरितमानस की चौपाई के साथ ही खिलवाड़ कर डाला
विनय न मानत ‘जज’ धि जड़ गए है वर्षो बीत
बोले हिन्दू प्रकोप तब भय बिन होय न प्रीत
जबकि श्रीरामचरितमानस में सुंदरकांड की 57वी चौपाई इस प्रकार है

बिनय न मानत जलधि जड़
गए तीनि दिन बीति।
बोले राम सकोप तब
भय बिनु होइ न प्रीति|| ||
इधर तीन दिन बीत गए, किंतु जड़ समुद्र विनय नहीं मानता। तब श्री रामजी क्रोध सहित बोले- बिना भय के प्रीति नहीं होती॥॥

में छेड़छाड़ कर अरबों हिंदुओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ नही तो और क्या है
आप तमाम और भी तरीके से अपनी लोकप्रियता प्राप्तबकर सकते है लेकिन धर्मिक ग्रन्थ के साथ छेड़छाड़ निश्चित ही दुखद है।

पूरी चौपाई में जज के साथ साथ भगवान श्रीराम और श्रीरामचरितमानस के साथ जो

इस तरह की होल्डिंग में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारियों सहित स्थानीय जिम्मेदार लोगों के फ़ोटो लगे होने एक चिंता का विषय जरूर है।

सीताराम केशरी, जगत सिंह यादव, प्यारेलाल, सोनेलाल केशरवानी, राजेश कुमार,सचिन केशरवानी सरीखे स्थानीय नेताओं की फ़ोटो इस होल्डिंग में लगी है

ऐसी होल्डिंग जिले मुख्य मार्गो व चौराहों पर देखी जा सकती है।

LEAVE A REPLY