ओएमजी” ने फर्जी शिकायत को लेकर भाजपा को लीगल नोटिस भेजा…

बिलासपुर. । “OMG news network” के 6 माह पुराने समाचार को भाजयुमो सक्रिय कार्यकर्ता वर्तमान में पेड न्यूज़ बनाकर लिखे जाने की कलेक्टर को शिकायत की है।

बिना छानबीन के निर्वाचन कार्यालय ने इस फर्जी शिकायत पर कांग्रेस को नोटिस भी जारी कर दिया. इस मामले में ओएमजी न्यूज़ नेटवर्क ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा प्रत्याशी के इशारे पर कराई गई फर्जी शिकायत को लेकर मानहानि और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार के हनन का मामला दायरकरने नोटिस भेजा है।

ओएमजी न्यूज़ ने 20 अप्रैल 2018 को एक समाचार प्रकाशित किया था जिसमें कहा गया था कि स्थानीय मंत्री ने अपने गनमैन और पीएसओ से दुर्व्यवहार के लिए एक ‘कार्ययकर्ता रोहित मिश्रा को बंगले से डांट कर भगाया.’ तब ना तो चुनाव आचार संहिता लागू हुई थी और ना ही भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के प्रत्याशियों की घोषणा हुई थी. लेकिन अब जब चुनाव सिर पर है तो इस पुराने समाचार को आधार बनाकर हफ्ते भर पहले पेड न्यूज की फर्जी शिकायत कराई गई ताकी पत्रकारों पर दबाव बनाया जा सके.

सियासी लाभ लेने के लिए उक्त समाचार को पेड न्यूज़ बताते हुए 10 नवंबर 2018 को भाजयुमो कार्यकर्ता रोहित मिश्रा ने कलेक्टर को शिकायत की. इस शिकायत पर बिना छानबीन के सहायक निर्वाचन अधिकारी अग्रवाल ने कांग्रेस प्रत्याशी शैलेश पांडेय को पेड न्यूज़ छपवाने का नोटिस दे दिया. इसकी भनक लगने पर ओएमजी न्यूज़ नेटवर्क ने आधा दर्जन लोगों को इस मामले के लिए जिम्मेदार बताते हुए मानहानि और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार के हनन का नोटिस भेजा है.

इसके लिए भाजपा के पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल, स्थानीय मंत्री अमर अग्रवाल, भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष और भाजयुमो के सक्रिय कार्यकर्ता रोहित मिश्रा, जिला निर्वाचन अधिकारी, सहायक निर्वाचन अधिकारी, को जिम्मेदार ठहराया गया है. सभी को भेजी गई लीगल नोटिस में 1 हफ्ते के अंदर सार्वजनिक क्षमा याचना नहीं करने पर आपराधिक मानहानि और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार का हनन और आईटी एक्ट के तहत प्रक्ररण चलाने की चेतावनी दी गई है।

LEAVE A REPLY