• *_मवेशियों से लदे ट्रक को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले किया_*

    *_पुलिस ने ट्रक को अपने कब्जे में लेना उचित नहीं समझा_*

    *_जिगना के पास पकड़ा गया मवेशियों से भरा ट्रक_*

    *_तीन की संख्या में ट्रक भागने में हुए सफल_*

    सतना जिले के ग्राम जिगना के पास पकड़ा गया मवेशियों से भड़ा ट्रक , चार की संख्या में ट्रक जो कि
    उचेहरा बेला घाटी से बल्लू सिंह के ढाबे से मवेशियों को लोड कर के वाहन के द्वारा जिगना की तरफ लाया जा रहा था जिसे बेला घाटी के आसपास बजरंग दल के कुछ लड़कों के द्वारा जानकारी होने पर रुकवाने का प्रयास किया गया लेकिन ट्रक चालक ने बजरंग दल के कार्यकर्ता को ठोकर मार कर मौके से भाग दिया जिसकी सूचना वहां के व्यक्तियों के द्वारा के पी न्यूज चैनल के एमपी हेड राजमणि पांडे को एवं ब्लॉक रिपोर्ट लाल जी शर्मा को दी गई और वही स्थानीय लोगो के द्वारा रामनगर थाना को फोन के माध्यम से इस घटना की जानकारी दी गई एवं नौगांव सरपंच के द्वारा रामनगर थाना प्रभारी सतीश मिश्रा को दूरभाष के माध्यम से बताया गया मगर पूरी जानकारी मिलने के बाद भी जब मौके पर पुलिस नही आई तो ग्रामीणों के द्वारा जिगना में गाय एवं भैंस से लदे ट्रक को पकड़ा गया जिसका नंबर यूपी 70 ईटी 3033 दर्ज है। और मौके से
    तीन ट्रक भागने में सफल हुए मवेशियों से लदे ट्रक को पकड़ने में पुलिस ने नही दिखाई दिलचस्पी ,बजरंग दल ,सरपंच व ग्रामीणों के द्वारा पकड़ा गया वाहन । मवेशियों को कटिंग के लिए up ले जाया जा रहा था , जब इस मामले में रामनगर थाने से कोई भी स्टाफ नही आया तो उसी दौरान सतना पुलिस अधीक्षक संतोष गौर को मीडिया की टीम व स्थानीय सरपंच ने इस पूरे मामले की जानकारी दी तो सतना पुलिस अधीक्षक के द्वारा बोला गया कि मैं अभी रामनगर थाना प्रभारी को स्पॉट पर भेज रहा हूँ। वही स्थानीय सरपंच का कहना था कि ये पशु तस्करी का गोरख धंधा कई वर्षों से चल रहा है और इसमें रामनगर थाना प्रभारी के द्वारा किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की जाती है जिससे साफ जाहिर होता है कि पुलिस भी इस में मिली हुई है और कार्रवाई करने के बजाय तस्करों को तस्करी का बढ़ावा दे रही है । सरपंच और स्थानीय लोगों ने बताया कि रामनगर थाना में लगातार कई बार इसकी शिकायत की गई मगर पुलिस ने किसी प्रकार का कोई कदम नहीं उठाया और जब आज ग्रामीणों के द्वारा अपनी जान को जोखिम में डाल कर मवेशियों से लदा ट्रक को पकड़ा गया तो पुलिस इसमें दिलचस्पी नहीं दिखा रही है।

LEAVE A REPLY