घर से तालाब के पास गई बच्ची का शव संदिग्ध हालात में घर की बाउंड्री के अंदर भूसे के टिनशेड में मिला। परिजनों ने तालाब के विवाद को लेकर विरोधी पर हत्याकर शव भूसे के कमरे में छिपाने का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस बच्ची के फांसी लगाकर जान देने की आशंका जता रही है। पुलिस ने आरोपित विरोधी को हिरासत में ले लिया है।
सांगीपुर के भगौरा गांव निवासी बृजेश कश्यप फाइवर का दरवाजा लगाने का काम करता है। उसने गांव के एक तालाब में मछली पालन किया है। तालाब को लेकर उसका गांव के ही बसंतलाल से विवाद चल रहा है। सोमवार को बृजेश मुकदमे की पैरवी मे कचहरी गया था। शाम साढे़ तीन बजे वह घर आया तो बाउंड्री के अंदर टिनशेड में भूसे के बीच अपनी बेटी श्रेजल (12) का शव देखा। जानकारी होते ही घर के लोग शोर मचाने लगे। गांव के लोग पहुंचे तो श्रेजल का शव दरवाजे पर रखा था। मौके पर पहुंची पुलिस को बृजेश ने बताया कि उसकी पत्नी छोटे बेटे के साथ घर के अंदर सो रही थी। तालाब के विवाद को लेकर विरोधी ने उसकी बेटी की हत्या कर दी और उसके ही घर में लाकर भूसे में छिपा दिया। मौके पर पुलिस पहुंची तो टिनेशड की बल्ली से एक रस्सी लटक रही थी। पुलिस ने बच्ची के फांसी लगाकर जान देने की आशंका जताई और शव कब्जे में ले लिया। हालांकि आरोप लगने के बाद पुलिस ने बसंतलाल रजक को हिरासत में ले लिया है। पुलिस शव थाने ले गई। बाद में परिजन भी थाने पहुंचे और एसपी के आने की मांग को लेकर शव पोस्टमार्टम को भेजने से रोक दिया। हालांकि सीओ रमेशचंद ने परिजनों को समझा बुझाकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।

बृजेश के घर के बाहर बाउंड्री है। बृजेश का पिता भी वहां मौजूद था। भूसे के टिनशेड में कोई बाहरी आते हुए नहीं दिखा। हालात देखकर बच्ची के फांसी लगाकर जान देने की आशंका है। टिनशेड की बल्ली से रस्सी भी लटक रही थी। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। एस आनंद, एसपी

LEAVE A REPLY