रीवा मऊगंज जनपद के अंतर्गत ग्राम पंचायत उचेहरा मे नही वल्की हर पंचायतो मे कागज के पन्नों का खेल खूब धडाके से चल रहाहै

जिसमें रोजगार सहायक श्री मती गीता पटेल जी द्वारा वित्तीय प्रभार का दुरुपयोग करते हुए एवम् सब इंजीनियर एपीओ एवं अधिकारियों की मिलीभगत से पंचायत की राशि बिना काम करवाए ही निकाली गई जैसे ही इसकी जानकारी ग्राम पंचायत उचेहरा की सरपंच श्रीमती उर्मिला साहू को हुई तो उन्होंने तत्काल संबंधित विषय का जांच करवाने हेतु जनपद सीईओ को आवेदन दिया जिसके परिपेक्ष में अधिकारियों द्वारा की गई जांच में यह सिद्ध हुआ कि सहायक सचिव ने अपने पति ससुर सास देवर आदि को व्यक्तिगत लाभ पहुंचाते हुए उनके खातों में पंचायत के खाते से राशि ट्रांसफर की है।
वित्तीय प्रभार का लाभ उठाते हुए अपने परिवारजनों को व्यक्तिगत रूप से लाभ दिलाने का कार्य किया जिसमें से सारा का सारा पैसा हजम कर लिया गया सिर्फ और सिर्फ कागजों पर ही कार्य किया गया प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा जांच किया गया जिसमें जीआरएस गीता पटेल को दोषी पाया गया जिसमें पंचायत अभी तक कुछ कार्यवाही नहीं हुई जिसमें ग्राम पंचायत उचेहरा के समस्त नागरिकों पर आक्रोश है अगर समय सीमा के पहले जांच नहीं कराई गई या दोषी पर कार्रवाई नहीं की गई तो हितग्राही अनशन पर बैठेंगे।
नीचे उक्त प्रकरण के सभी ऑडियो भेजे जा रहे हैं जिसमें एक अधिकारी द्वारा बचाव हेतु मंत्री कमलेश्वर पटेल का भी नाम आया है और एक ऐसा भी ऑडियो है जिसमें देवतालाब के विधायक गिरीश गौतम जी उक्त प्रकरण की सही जांच हेतु अधिकारी को निर्देशित कर रहे हैं अब देखना यह है की उक्त आरोपी के क्या कार्यवाही होती है ।

 

सुनामीब्यूरो संजीत द्विवेदी

 

LEAVE A REPLY