गोपालगंज शहर के जंगलिया वार्ड नंबर 18 सोमवार की शाम एक ऐसी खबर प्रकाश में आई कि कुछ पल के लिए जिला प्रशासन भी सके ते में पड़ गया लेकिन पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए इस मामले में बड़ी सफलता हासिल कर ली हालांकि इस कांड को सुलझाने में पुलिस को ज्यादा वक्त नहीं लगा और बरामदी कर ली गई।

परिजनों ने जताई थी अपहरण की आशंका,

बता दें कि सोमवार की शाम शहर के वार्ड नंबर 18 से एक शिक्षक नूर आलम को स्कार्पियो सवार लोगों ने अगवा कर लिया जिसके बाद से पूरे परिवार में अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया आनन-फानन में पीड़ित परिवार वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी एसपी मनोज कुमार तिवारी, एसडीपीओ नरेश पासवान, नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार राय व सब इंस्पेक्टर धनंजय कुमार आनन-फानन में पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू कर दी शिक्षक के अगवा के मामले में उनके पुत्र अब्दुल्लाह नूर के बयान पर पूर्वी चंपारण जिले के बहलोवपुर गांव के फैज अनवर व ढाका थाने के औरैया गांव के आसिफ इकबाल और दो अज्ञात लोगों पर नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी बताया गया है कि नूर अलाम सदर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय मैनपुर-एकडेरवा में पढ़ाते थे स्कूल से आने के बाद वे अपने मकान में मरीजों का इलाज भी किया करते थे बरहाल इस मामले में गोपालगंज एसपी के निर्देश पर गठित की गई टीम ने सीतामढ़ी से अपहृत शिक्षक को बरामद कर लिया है वही गोपालगंज एसपी ने बताया कि अपहृत किए गिरोह तक गोपालगंज पुलिस पहुंच गई है और इस मामले में संलिप्त लोगों को पहचान गोपालगंज पुलिस के द्वारा की जा चुकी है। इस घटना में आपसी पैसे की लेनदेन को लेकर अगवा करने का मामला प्रकाश में आ रहा है वैसे पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है बहुत जल्द इस कांड में जुड़े आरोपियों का खुलासा कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY