बिहार के मुजफ्फरपुर से मानवता को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है जहां एक युवती को सरफिरे आशिक ने किरोशिन का तेल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया घटना की सूचना पर आनन-फानन में पीड़ित परिवार ने युवती को एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया लेकिन डॉक्टरों ने स्थिति नाजुक देखते हुए एसकेएमसीएच रेफर कर दिया आर्थिक तंगी से जूझ रहा यह परिवार पर मुसीबतों का बोझ टूट पड़ा है आग लगी कि इस घटना में युवती 90% पूरी तरह जल चुकी है डॉक्टरों के मुताबिक पीड़िता की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है घटना मुजफ्फरपुर के अहियापुर थाना क्षेत्र के एक गांव से खटीक बताई जा रही है वहीं इस मामले में जख्मी युवती की मां ने स्थानीय थाना अध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगाए हैं 3 साल तक शिकायत अनसुनी करते रहे थानेदार इस पूरे मामले में पुलिस और इलाके के थानेदार पर पीड़त परिजनों ने संगीन आरोप लगाए हैं घटना की जानकारी देते हुए पीड़िता की मां की आंखों से आंसू थम नहीं रहे थे वह कहती है कि इस घटना के लिए अगर असली जिम्मेदार कोई है तो वह है अहियापुर के एस एच ओ पिछले 3 साल से एक युवक उनकी बेटी को परेशान कर रहा था इसकी सूचना बार-बार स्थानीय पुलिस को दी गई लेकिन पुलिस के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई वही एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ सुनील कुमार साहिल की माने तो पीड़िता बेहद बुरी तरह जली हुई है और उसका बचना मुश्किल दिख रहा है उन्होंने कहा कि अगर उसकी हालत में थोड़ा भी सुधार होता है तो फौरन पटना पीएमसीएच रेफर कर दिया जाएगा इसी बीच मुजफ्फरपुर के एसएसपी जयकांत सिंह ने कहा कि अगर इस मामले में कहीं से भी कोई लापरवाही स्थानीय पुलिस के द्वारा की गई है तो निश्चित तौर पर कार्यवाही की जाएगी बरहाल s.s.p. ने यह भी कहा कि रविवार को हुई इस घटना में अहियापुर पुलिस ने काफी मुस्तैदी दिखाई है आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Kumar pardeep,

LEAVE A REPLY