सुनामी एक्सप्रेस टीम बगहा।

आज के दौर में सोशल मीडिया को सही साबित कर दिखाया बिहार के बगहा के लोगों ने, मामला 25 जनवरी का है जहां फेसबुक पोस्ट की गई अनाथ बच्चे की तस्वीर ने उसके जिंदगी के लम्हों को बदल दिया 5 महीने पहले हुए पिता की मौत से भुखमरी की कगार पर पहुंचे परिवार के भरण पोषण का जिम्मा 9 साल के अनाथ सुनील के कंधों पर आ गया 5 माह पूर्व पिता राजन की असामयिक मौत के कारण घर के कमाऊ सदस्य इस परिवार को हमेशा के लिए छोड़ कर चला गया अनाथ बच्चा बताता है कि पिता की मौत के बाद दुखों का पहाड़ ऐसा टूटा की जिसकी कल्पना हम नहीं कर सकते पिता के निधन के बाद परिवार चलाने का जिम्मेदारी 9 साल के अनाथ सुनील पर आ गया वह स्टेशन पर ठेला लगाकर पकौड़ा बेचकर 5 परिवारों की जिंदगी का भरण पोषण करने लगा इसी बीच 25 जनवरी की रोज पकौड़ी बनाते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ

कहते हैं कि मेहनत करने वाले का साथ ईश्वर भी देता है ऐसा ही हुआ कल तक ठेले पर पकौड़ा बेचने वाला 9 साल का मासूम आज चौथी कक्षा में पढ़ाई करने लगा है यह कार्य सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट ने की इसके बाद तो मदद के लिए अनगिनत हाथ बढ़ने लगे किसी ने उसके शिक्षा की जिम्मेदारी संभाली तो किसी ने उसके परिवार के भरण-पोषण की किसी ने मार्मिक ढंग से इसे शेयर किया तो किसी ने इस परिवार के लिए और कुछ कर गुजरने की कसम भी खा ली मदद का सिलसिला अब भी जारी है आज के दौर में सोशल मीडिया से संबंधित तमाम नकारात्मक खबरों के बीच इसका सकारात्मक प्रयोग भी हो सकता है, बगहा के लोगों ने इसे साबित कर दिया है जरूरत है सोशल मीडिया के नकारात्मक तथ्यों को नजरअंदाज कर ऐसे ही लाचार और बेबसों की आगे भी मदद की जाए

Pradeep kumar,

LEAVE A REPLY