देवरिया। पूर्वांचल मुक्ति वाहिनी की बैठक रविवार को श्री राम जानकी मंदिर के प्रांगण में संपन्न हुई बैठक की अध्यक्षता मंदिर के महंत श्री प्रदुम्न मिश्र ने किया।
बैठक को संबोधित करते हुए पूर्वांचल मुक्ति वाहिनी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष काशीनाथ ने कहा कि पूर्वांचल की संत परंपरा बहुत ही प्राचीन है इसी परंपरा के वजह से पूरे देश में समरसता व्याप्त है,संत रविदास जी बहुत परोपकारी तथा दयालु थे और दूसरों की सहायता करना उनका स्वभाव बन गया था।साधु- संतों की सहायता करने में उनको विशेष आनन्द मिलता था।शेष समय ईश्वर-भजन तथा साधु-संतों के सत्संग में व्यतीत करते थे।
पूर्वांचल मुक्ति वाहिनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंद्रेश सिंह अमेठिया ने कहा कि पूर्वांचल के संत परंपरा संत रविदास जी का महत्वपूर्ण स्थान है उनसे शिक्षा लेकर हम सब को प्रेरणा मिली कि गरीब पूर्वांचल वासियों का अरबों रुपया ठगने वाले कंपनी सहारा के कारण लाखों गरीब आत्महत्या के कगार पर पहुंच गए हैं साथ ही साथ लाखों गरीब बेटियों का भी विवाह नहीं हो रहा है इसके खिलाफ व्यापक जन आंदोलन खड़ा करके केंद्र और राज्य सरकार पर दबाव बनाया जाएगा जिससे समस्त पूर्वांचल के खून पसीने की कमाई ब्याज सहित वसूला जा सके
बैठक का संचालन जिला अध्यक्ष कौशल वर्मा ने किया बैठक में दिनेश मल्ल, विक्रम खरवार,सोनू सैनी,रमेश चंद्र श्रीवास्तव, दीपक मद्देशिया,रामप्रवेश मिश्र, अंकुर मिश्रा, राहुल पांडेय,राजीव लोचन,पिंटू पांडेय आदि उपस्थित रहे।

सुनामी एक्सप्रेस ब्यूरो चीफ देवरिया

सतीश वर्मा

LEAVE A REPLY