लार,देवरिया।आज सर्वेश्वर धाम कोहरा में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने समर्पण दिवस के रूप में मनाया। सर्वप्रथम कार्यकर्ताओं ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की, तत्पश्चात वक्ताओं ने कहा स्वर्गीय उपाध्याय देश को एकात्म मानववाद नामक विचारधारा दी। वो एक समावेशित विचारधारा के समर्थक थे, जो एक मजबूत और सशक्त भारत चाहते थे, राजनीति के अतिरिक्त साहित्य में भी उनकी गहरी अभिरुचि थी । उन्हें जनसंघ की आर्थिक नीति का रचनाकार माना जाता है, उनका विचार था कि आर्थिक विकास का मुख्य उद्देश्य सामान्य मानव का सुख है “वसुधैव कुटुंबकम्” भारतीय सभ्यता से प्रचलित है इसी के अनुसार भारत के सभी धर्मों को समान अधिकार प्राप्त है संस्कृति के किसी व्यक्ति, वर्ग राष्ट्र, आज की वह बातें जो उनके मन रुचि, आचार, विचार, कला, कौशल और सभ्यता की सूचक होती है। दीनदयाल जी का जन्म 25 सितंबर 1916 को मथुरा में हुआ था जबकि उनकी मृत्यु संदिग्ध परिस्थिति में 11 फरवरी 1968 को मुगलसराय में हो गई । कार्यक्रम में मुख्य रूप से कमलेश तिवारी (मंडल अध्यक्ष) विष्णु कांत तिवारी, अरुण पांडेय (सेक्टर कार्यक्रम संयोजक) देव मोहन तिवारी, पप्पू बाबा,चुनचुन सिंह, कन्हैया चौहान,रामएकबाल कुशवाहा, मानदेव तिवारी ,गामा गोंड़,गौरव सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सुनामी एक्सप्रेस तहसील रिपोर्टर सलेमपुर

सुधेन्द्र पाण्डेय(पप्पू बाबा)

LEAVE A REPLY